एग्री डॉक्टर सलाहकृषि विभाग उत्तर प्रदेश
गेंहूं की सिंचाई करते समय इन बातों का रखें ध्यान!
👉🏻किसान भाइयों गेंहूं हमारी प्रमुख फसलों में से एक है इसकी सिंचाई के समय निम्न बातें का ध्यान देना आवश्यक होता है- 👉🏻बुआई से पहले खेत भली-भॅाति समतल करे तथा किसी एक दिशा में हल्का ढाल दें, जिससे जल का पूरे खेत में एक साथ वितरण हो सके। 👉🏻बुआई के बाद खेत को मृदा तथा सिंचाई के साधन के अनुसार आवश्यक माप की क्यारियों अथवा पट्टियों में बांट दे। इससे जल के एक साथ वितरण में सहायता मिलती है। 👉🏻हल्की भूमि में आश्वस्त सिंचाई सुविधा होने पर सिंचाई हल्की (लगभग 6 सेमी० जल) तथा दोमट व भारी भूमि मे तथा सिंचाई साधन की दशा में सिंचाई कुछ गहरी (प्रति सिंचाई लगभग 8 सेमी० जल) करें। नोट:- ऊसर भूमि में पहली सिंचाई बुआई के 28-30 दिन बाद तथा शेष सिंचाइयां हल्की एवं जल्दी-जल्दी करनी चाहिये। जिससे मिट्टी सूखने न पाये।
11
5
अन्य लेख