AgroStar
गाय पालने वालो को उत्तर प्रदेश में प्रशिक्छित किया जायेगा!
जैविक खेतीAgrostar
गाय पालने वालो को उत्तर प्रदेश में प्रशिक्छित किया जायेगा!
👉गाय पालने वाले कृषक के लिए उत्तर प्रदेश में प्रशिक्छित किया जायेगा ,प्राकृतिक खेती को मिलेगा बढ़ावा। गाय पालने वाले कृषक के लिए उत्तर प्रदेश में प्रशिक्छित किया जायेगा और यह 24 मई से 9 जून तक उत्तर प्रदेश पशुपालन विभाग रहमान खेरा में आयोजन किया गया है ,यहाँ से जो सीख कर जायेगा वो अपने जिला में सलाहकार के रूप में चुना जायेगा। 👉देश में खेती सस्ता और टिकाऊ बनाने के लिए सर्कार लगा तर प्रयाश कर रहे है ,साथ हे साथ प्राकृतिक कहते पर भी ध्यान दिया जा रहा है इन दोनों पद्धति से गाय के गोबर और गौमूत्र की आवस्यकता पड़ती है, इस लिए अब गाय पालक कृषको को बढ़ावा दिया जायेगा,इससे किसानो का भी लाभ होगा और लगत कम मुनाफा ज्यादा होगा ,और आय में बृद्धि होगी इसको देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने ये कदम उठाया है। 👉इस प्रशिक्षण का आयोजन कृषि विभाग द्वारा लखनऊ ,बनारस ,अयोध्या,कानपूर,देविपार्टन ,आजमगढ़,गोरखपुर,अलीगढ,मिर्जापुर,इलाहबाद,चित्रकूट,महोबा,झाँसी,बरेली,मेरठ,सहारनपुर ,बिंध्याचल,मुरादाबाद इन संभाग में किया जायेगा। प्राकृतिक खेती में केवल गाय के गोबर और मूत्र का प्रयोग खेती में करते है इसमें कोई रासायनिक खाद या उर्वरक का प्रयोग नही किया जाता है। 👉गौरतलब है की सीएई की रिपोर्ट में बताया गया है की भहरात के के राज्यों के मृदा में कार्बन कंटेंट काम होने का बात कही है ,कृषि वैज्ञानिको के लिए यह एक चिंताजनक खबर है। क्योकि सब कुछ स्वस्थ मिट्टी पर निर्भर है और यह प्रशिक्छण से सीख कर किसान अपनी मिट्टी की प्राकृतिक उर्वरा सक्ति को वापस पा सकते है और फल और सब्बज़ियों में पोशाक तत्व की पूरी मात्रा उपलब्ध होती है स्रोत:-AgroStar 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
24
6
अन्य लेख