AgroStar
गाय के गोबर से बनी राखी!
विशेष दिवस Agrostar
गाय के गोबर से बनी राखी!
गाय के गोबर से बनी राखी - 🎊देश में रक्षाबंधन के पर्व की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. बाजार की रंग-बिरंगी राखियां आपको आकर्षित करेंगी। आपको बता दें कि आजकल लोग आत्मनिर्भर बनने की ओर बढ़ रहे हैं, क्योंकि अब बाजार में भारत में बनी राखियां ही नजर आती हैं। ऐसे में गुजरात की महिलाएं भी रक्षा बंधन के पावन मौके पर राखी बना रही हैं. खास बात यह है कि ये महिलाएं गाय के गोबर से शत-प्रतिशत जैविक राखी बना रही हैं। राखी के ऑर्डर देश ही नहीं विदेशों से भी आते हैं। कोरोना के बाद बड़ी मांग - 🎊देश में जहां एक तरफ कोरोना महामारी ने कई व्यापारियों का कारोबार और देश के लोगों का रोजगार छीन लिया, वहीं दूसरी तरफ कोरोना ने कई लोगों के लिए रोजगार के दरवाजे भी खोल दिए हैं. आपको बता दें कि कोरोना काल में इंटरनेट लोगों के लिए वरदान साबित हुआ था। इंटरनेट ने छोटे और सीमांत व्यवसायों को नई पहचान दी है। 🎊इसी तरह गुजरात के जूनागढ़ की महिलाओं का यह धंधा भारत ही नहीं अमेरिका तक पहुंच चुका है. उनका कहना है कि कोरोना से पहले 500 राखियां ही बनती थीं. लेकिन अब मांग बढ़ने से करीब 20 हजार राखियां बन रही हैं। अब उनकी राखियों की मांग अमेरिका पहुंच गई है। राखी 100% ऑर्गेनिक होती हैं - 🎊गाय के गोबर से बनी ये राखी पूरी तरह से जैविक होती है। यानी इसमें किसी भी तरह के केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया गया है। ये राखियां पानी के संपर्क में आने पर पूरी तरह घुल जाती हैं। इसमें गाय के गोबर से मोती बनाकर मढ़ी के धागे में बांधा जाता है।आपको बता दें कि इसे कलाई में बांधने के लिए मौली के धागे का इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही अन्य बीजों जैसे तुलसी, अश्वगंधा, कालामेघ को भी गोलियों में डाला जा रहा है, ताकि राखी का उपयोग करने के बाद इसे गमलों और मिट्टी में डाला जा सके. जिससे प्रदूषण भी कम होगा। स्त्रोत:- AgroStar 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
7
0
अन्य लेख