कृषि वार्ताकृषि जागरण
खुशखबरी: मिलेगी 16 लाख करोड़ रूपए की वित्तीय मदद!
👉किसानों के हित के लिए केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने संघ राज्य क्षेत्रों का सम्मेलन का एक कर्यक्रम आयोजित किया. जहाँ पर कृषि मंत्री तोमर ने संघ राज्य क्षेत्रों में कृषि के विकास को लेकर विस्तृत चर्चा की गई। 👉इस अवसर पर केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र के समग्र विकास के लिए प्रतिबद्ध है, इसी के अनुरूप अनेक ऐसी योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिनके बारे में कभी कल्पना भी नहीं की गई थी. 1 लाख करोड़ रूपए के फंड से सरकार किसानों के खेतों के पास इंफ्रास्ट्रक्टचर बनाने खड़ी हुई है। 👉कृषि व सम्बद्ध क्षेत्रों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डेढ़ लाख करोड़ रू. से ज्यादा राशि विशेष पैकेजों के रूप में उपलब्ध कराई है, जिसके अंतर्गत प्रोजेक्ट प्रस्तुत करते ही कृषि मंत्रालय की टीम बैंकर्स से इन्हें मंजूर कराएगी. देशभर में गांव-गांव और खेतों के पास तक इंफ्रास्ट्रक्चर बन जाने पर किसान अपनी उपज को कुछ समय रोककर बाद में वाजिब दाम पर बेच सकेंगे। 👉इसके अलावा, केंद्रीय मंत्री तोमर ने सम्मेलन के दौरान कहा कि कृषि का क्षेत्र देश में अर्थव्यवस्था के साथ ही हर दृष्टि से महत्वपूर्ण है, इसीलिए प्रधानमंत्री मोदी का जोर है कि कृषि को बढ़ावा देने के लिए हरसंभव प्रयत्न किए जाएं, फलस्वरूप अनेक योजनाएं संचालित की रही है. इनका शत-प्रतिशत क्रियान्वयन पूरी पारदर्शिता से हो रहा है। किसान क्रेडिट कार्ड के तहत मिलेगी सोलह लाख करोड़ रूपए वित्तीय मदद:- 👉इसके साथ ही उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के तहत किसानों को वित्तीय मदद के लिए प्रधानमंत्री जी ने इस साल सोलह लाख करोड़ रूपए का लक्ष्य रखा है, जिसमें से अभी चौदह लाख करोड़ रूपए किसान उपयोग कर रहे हैं। 👉प्रधानमंत्री द्वारा पिछले साल फरवरी में प्रारंभ किए गए केसीसी के अभियान के बाद से सालभर में कोऱोना के बावजूद राज्यों व बैंकों के सहयोग से दो करोड़ से ज्यादा किसानों को लगभग ढाई लाख करोड़ रूपए उपलब्ध हुए है। स्रोत:- Krishi Jagran, 👉 प्रिय किसान भाइयों दी गई उपयोगी जानकारी को लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
38
3
अन्य लेख