क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषी वार्ताकृषक जगत
खरीफ फसल का पंजीयन 15 अक्टूबर तक होगा!
इंदौर. खरीफ फसल का पंजीयन 15 अक्टूबर तक होगा। खरीफ फसल का पंजीयन 15 अक्टूबर तक होगा। इंदौर संभाग में ई- उपार्जन पोर्टल पर खरीफ 2020 में फसलों का पंजीयन 15 सितंबर से शुरू हो गया है , जिसकी अंतिम तिथि 15 अक्टूबर है। कृषि विभाग ने किसानों से निर्धारित तिथि तक फसलों का पंजीयन कराने की अपील की है। इस बारे में उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास श्री आर. एल .जामरे ने बताया कि जिले के किसान अपने नजदीकी पंजीयन केन्द्र पर ई- उपार्जन पोर्टल पर खरीफ 2020 में फसल का 15 सितम्बर से 15 अक्टूबर 2020 तक ई-उपार्जन पोर्टल पर निःशुल्क .पंजीयन करा सकते हैं। पंजीयन हेतु जिले में कपास, धान,ज्वार,बाजरा चयनित फसलें है। यदि पंजीयन केन्द्रो पर अधिक संख्या में कृषक एक साथ उपस्थित हो रहे हो तो कोविड-19 की गाईडलाईन का पालन करते हुए पंजीयन उसी समय में नही होने की स्थिति में संबंधित कृषक पंजीयन केन्द्र से टोकन प्राप्त कर निर्धारित समय पर पंजीयन करा सकते हैं। श्री जामरे ने स्पष्ट किया कि पंजीयन हेतु कृषको को खसरा अथवा वन अधिकार पट्टे इत्यादि में से कोई एक दस्तावेज साक्ष्य की स्वप्रमाणित छायाप्रति/फोटो कॉपी की आवश्यकता है। पृथक से राजस्व विभाग के प्रमाणीकरण की आवश्यकता नही है। पंजीयन हेतु कृषक का एक ही बैंक खाता पर्याप्त है, दूसरे बैंक खाते की आवश्यकता नही है। संयुक्त भूमि खाते की स्थिति में समस्त खाताधारियो के पंजीयन केन्द्र पर उपस्थिति अथवा उनसे किसी प्रकार का सहमति पत्र/शपथ पत्र लिये जाने संबंधी कोई भी निर्देश नही है अतः संयुक्त खाताधारियों की स्थिति में किसी भी एक खाताधारी के द्वारा आवेदन दिये जाने पर निम्नानुसार पंजीयन कार्य किया जावेगा। भू-अधिकार ऋण पुस्तिका भी अनिवार्य नही है। निर्धारित अंतिम तिथि 15 अक्टूबर तक पंजीयन नही करवाने वाले किसान शासन की उपार्जन एवं अन्य योजनाओ के लाभ से वंचित रह जायेंगे। इसलिए कृषक बंधुओ से आग्रह है कि कृषक अपने पंजीयन हेतु वांछित समस्त दस्तावेजों तथा अपने मोबाईल के साथ पंजीयन केन्द्र आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था तथा सहकारी विपणन संस्था मर्या. धार पर पहॅुचकर पंजीयन करवाएं। दूसरी ओर खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए धान, ज्वार व बाजरा के उपार्जन के लिए खंडवा में भी पंजीयन की कार्यवाही शुरू हो गई है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री आर.के. शुक्ला ने बताया कि किसानों के पंजीयन की यह कार्यवाही 15 अक्टूबर तक प्रात: 10:30 बजे से सायं 5:30 बजे तक की जायेगी। उन्होंने बताया कि जिले के धान, ज्वार व बाजरा उत्पादक किसानों से अपील की है कि वे अपना पंजीयन अवश्य करा लें। इसके जिले में कुल 12 पंजीयन केन्द्र बनाए गए है। पंजीयन केन्द्रों के अलावा किसान भाई पंजीयन के लिए एमपी किसान एप, ई उपार्जन मोबाइल एप अथवा पब्लिक डोमेन ई पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री आर.के. शुक्ला ने फसल पंजीयन हेतु आवश्यक निर्देश भी दिए हैं। स्रोत:- कृषक जगत, 16 सितंबर, 2020, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
81
5
संबंधित लेख