एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
केले में खाद एवं उर्वरक प्रबंधन!
👉किसान भाइयों केले के अच्छे वृद्धि एवं विकास के लिए मृदा परिक्षण के अनुसार संतुलित मात्रा में खाद एवं उर्वरकों का प्रयोग करें 👉अच्छी पैदावार के लिए ड्रिप सिंचाई पद्धति का प्रयोग करे। 👉फसल बढ़वार की अवस्था में घुलनशील उर्वरक 19:19:19 @ 1 किलोग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। यदि ड्रिप सिंचाई पद्धति उपलब्ध है तो 19:19:19 @ 3 किग्रा० प्रति एकड़ ड्रिप के माध्यम से दें। 👉सूक्ष्म पोषक तत्वों की पूर्ति हेतु सूक्ष्म पोषक तत्त्व @ 250 ग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर या ड्रिप के माध्यम से दें। स्रोत:-एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस,, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
2
0
अन्य लेख