योजना और सब्सिडीNews24
केंद्र की इस योजना में करिए निवेश, आजीवन मिलेंगे पैसे!
👉 यदि नौकरी सरकारी न हो तो लोग बुढ़ापे की भी चिंता करने लगते हैं। वहीं यदि छोटी कमाई से परिवार चला रहे हैं तो रोजना की जरूरतों में फंसे-फंसे कब बुढ़ापा आ जाता है पता ही नहीं चलता। फिर लगता है कि ये बुढ़ापा बोझ न बन जाए। ऐसे में केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना आपको सहारा देगी। बस जवानी में ही इस योजना में छोटा अमाउंट यानी महज 210 रुपए महीने देकर 60 साल बाद हर माह 5000 रुपए पेंशन के रूप में आजीवन पा सकते हैं। 👉 केंद्र सरकार की अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) की लोकप्रियता दिनो-दिन बढ़ती जा रही है। जवनी में चुटकी भर निवेश करने पर 60 साल बाद 5000 रुपए महीने पेंशन आजीवन मिलेगी। वर्ष 2020–21 में अटल पेंशन योजना एवं नेशनल पेंशन सिस्टम के खाताधारकों की संख्या में 23% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 👉 ये उन परिवारों को ध्यान रखकर सरकार ने ये योजना शुरू की है जो छोटे-छोटे अमाउंट निवेश कर पाते हैं। जिनकी बचत काफी कम है। इस योजना की लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। वर्ष 2020–21 में अटल पेंशन योजना और नेशनल पेंशन सिस्टम के खाताधारकों की संख्या में 23 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 31 मार्च 2021 तक इस योजना में कुल खाताधारकों की संख्या बढ़कर 4.24 करोड़ हो गई है। 👉 इस योजना का लाभ पति-पत्नी दोनों ले सकते हैं। ऐसे में दोनों यदि हर रोज 14 रुपए का निवेश करते हैं तो 60 साल बाद दोनों को 5000-5000 मंथली पेंशन मिलेगी। यानी आपको महीने की 10 हजार रुपए पेंशन के रूप में मिलेंगे। अटल पेंशन योजना का लाभ लेकर पति-पत्नी 1 लाख 20 हजार वार्षिक पेंशन पा सकते हैं। पेंशन की राशि प्रीमियम पर डिपेंड करती है। पेंशन की मिनिमम राशि 1000 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए महीने तय की गई है। 👉 इस योजना की खास बात ये है कि थोड़े-थोड़े निवेश से आर्थिक भार भी नहीं आता है और बुढ़ापे में मिलने वाली पेंशन से जीवन दबावमुक्त हो जाता है। इस योजना के तहत पेंशन प्लान लेने पर इनकम टैक्स में सेक्शन 80 CCD (1B) के अंतर्गत निवेशक को 50000 की इनकम टेक्स डिडक्शन प्रदान की जाएगी। इसके अलावा यदि पेंशन पाने वाली की मृत्यु हो जाती है तो ये पेंशन उसके पति/पत्नी या नॉमिनी को ट्रांसफर कर दी जाती है। इस योजना की सबसे खास बात ये है कि ये परिवार में किसी न किसी को मिलती रहेगी। 👉 यदि पेंशन का लाभ लेने वाले की मृत्यु 60 साल से पहले हो जाती है उस अवस्था में भी पेंशन उसके नॉमिनी को प्रदान किया जाएगा। किसी भी बैंक में या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाकर इसका लाभ लिया जा सकता है। इसके लिए न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 40 साल तय की गई। इसमें उम्र और 60 साल की उम्र के बाद मिललने वाली रकम के हिसाब से प्रीमियम तय की जाती है। इसमें 210-1454 रुपए तक मंथली प्रीमियम तय किया गया है। स्त्रोत:- news24 👉 प्रिय किसान भाइयों दी गई उपयोगी जानकारी को लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
6
0
अन्य लेख