कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
कृषि क्षेत्र के विकास के लिए कॉरपोरेट निवेश बढ़ाने की जरूरत : एसोचैम_x000D_
उद्योग संगठन एसोचैम का कहना है कि कृषि क्षेत्र में उच्च विकास दर हासिल करने के लिए कॉरपोरेट निवेश बढ़ाने की जरूरत है। एसोचैम के उपाध्यक्ष विनीत अग्रवाल ने कहा कि भारत में किसानों के पास जोत की जमीन बहुत कम है, जिस कारण पैदावार कम होती है और रखरखाव के अभाव में काफी कृषि उत्पाद खराब हो जाते हैं। कोल्ड चेन के अभाव में यह बर्बादी होती है। _x000D_ उन्होंने कहा कि सबसे पहले उत्पादन बढ़ाने के लिए हम कॉरपोरेट फार्मिग कर सकते हैं, दूसरा उत्पादों को खराब होने से बचाने के उपाय कर सकते हैं जिससे 30-40 फीसदी की बर्बादी न हो, तीसरा, कृषि उत्पादों का मूल्यवर्धन किया जा सकता है।_x000D_ उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में सुधार के लिए तीनों क्षेत्रों में निवेश की जरूरत है और तीनों क्षेत्र में कंपनियां निवेश करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में रोजगार के भी सबसे ज्यादा अवसर हैं, इसलिए इसमें निवेश से रोजगार सृजन भी होगा। _x000D_ इस अवसर पर नीति आयोग के सदस्य रमेश चंद ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में कृषि क्षेत्र की वृद्धि दर 3.1 फीसदी से अधिक रहने की संभावना है जोकि वित्त वर्ष 2018-19 में 2.9 फीसदी थी। _x000D_ स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 16 जनवरी 2020_x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।_x000D_
59
0
संबंधित लेख