कृषि वार्ताkrishi jagran
कृषि उत्पादों के बढ़ रहे है निर्यात!
👉🏻भारत में कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य निर्यात विकास प्राधिकरण एक शीर्ष एजेंसी है, जो कृषि उत्पाद निर्यात को बढ़ावा देती है. एपीडा (APEDA) की स्थापना भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा दिसंबर 1985 में संसद द्वारा अधिनियमित एक कानून के तहत की गई थी! 👉🏻एपीडा के एक बयान के अनुसार, कोविड -19 महामारी द्वारा प्रस्तुत वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में बाधाओं के बावजूद कृषि और प्रोसेस्ड फूड प्रोडक्ट के निर्यात में 13 प्रतिशत वृद्धि पाई गई है. बता दें कि कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (APEDA) ने पिछले साल की समान अवधि में निर्यात में 8.51 बिलियन डॉलर का इजाफा किया है. तो आइये जानते हैं कि कौन से कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद के निर्यात में इजाफा किया गया है! जाने और किन अनाजों में भी हुआ इजाफा - - मक्का, शिपमेंट में 110 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि मांस, डेयरी और पोल्ट्री निर्यात में 12 प्रतिशत की वृद्धि हुई! - अन्य अनाज का निर्यात इस साल अप्रैल-सितंबर में बढ़कर 448 मिलियन डॉलर हो गया, जो पिछले वर्ष में 213 मिलियन डॉलर था! - मांस, डेयरी और पोल्ट्री सामान का शिपमेंट पिछले वर्ष के 57 बिलियन डॉलर से बढ़कर 1.9 बिलियन डॉलर हो गया. यानि कि मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पादों का निर्यात अप्रैल-नवंबर 2021-22 में 12 प्रतिशत बढ़कर 2,665 मिलियन अमरीकी डालर हो गया है जो कि 2020-21 में यह 2,371 मिलियन अमेरिकी डॉलर थ! - ताजे फल और सब्जियों के निर्यात की बात करें, तो इसमें 2 बिलियन डॉलर से 8.5 प्रतिशत बढ़कर 1.3 बिलियन डॉलर हो गया, जबकि प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ जैसे अनाज, तैयारी, और अन्य प्रसंस्कृत वस्तुओं में 34.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई है! स्त्रोत:- कृषि जागरण 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
9
0
अन्य लेख