AgroStar
किसानों को फसल नुकसान का मिलेगा मुआवजा!
कृषि वार्ता Kisan Samadhan
किसानों को फसल नुकसान का मिलेगा मुआवजा!
👉🏻पिछले वर्ष अधिक बारिश, बाढ़, ओलावृष्टि एवं कीट रोगों से किसानों की फसलों को काफ़ी नुकसान हुआ था। जिसकी भरपाई राज्य सरकारों के द्वारा गिरदावरी कर किसानों की फसलों को हुए नुकसान के आधार पर की जाती है। कई किसानों को अभी तक पिछले रबी एवं खरीफ सीजन में हुई फसल ख़राबे का मुआवजा नहीं दिया गया है। 3 मार्च को राजस्थान की विधान सभा में प्रदेश में माह दिसम्बर, 2019 से जनवरी, 2022 तक तेज सर्दी, ओलावृष्टि, अतिवृष्टि,मावठ व पाला पड़ने से किसानों की फसलों को हुए नुकसान की जानकारी माँगी गई। 👉🏻राजस्थान के आपदा प्रबंधन एवं सहायता मंत्री श्री गोविन्द राम मेघवाल ने प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब देते हुए बताया कि प्रभावित क्षेत्रों के किसानों की फसलों के नुकसान के लिए वर्ष 2021-22 की गिरदावरी प्रकियाधीन है इसका परिणाम आते ही प्रभावित किसानों को भुगतान कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान में भारत सरकार के जयपुर में पदस्थापित अधिकारी कृषि विभाग को मौसम की जानकारी भेजते हैं। साथ ही उन्होंने वर्ष 2020-21 एवं 2021 में रबी एवं खरीफ सीजन में क्रमशः ओलावृष्टि, बेमौसम बारिश एवं बाढ़ से फसलों को हुए नुकसान एवं किसानों को दिए गए भुगतान की जानकारी उन्होंने पटल पर रखी। 33 प्रतिशत की फसल क्षति होने पर दिया जाता है मुआवजा- 👉🏻श्री मेघवाल ने बताया कि कृषकों की फसलों में 33 प्रतिशत या इससे अधिक खराबी पाये जाने पर कृषकों को भारत सरकार के एसडीआरएफ नोम्र्स के अनुसार कृषि आदान-अनुदान राशि का भुगतान किया जाता है। विधायक के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में दिसम्बर, 2019 से जनवरी 2022 की अवधि में रबी फसल वर्ष 2019-20, जायद फसल वर्ष 2020, खरीफ फसल वर्ष 2020, रबी फसल 2020-21, खरीफ फसल वर्ष 2021 तथा रबी फसल 2021-22 में अब तक प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर ओलावृष्टि से हुये फसल खराबे तथा खरीफ फसल वर्ष 2021में बाढ़ से हुये फसल खराबी के क्षेत्र की जिलेवार सूचना सदन के पटल पर रखी। स्त्रोत:- Kisan Samadhan 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
45
7
अन्य लेख