AgroStar
किसानों के लिए लोन पर हो सकता है अहम फैसला!
कृषि वार्ताTV9 Hindi
किसानों के लिए लोन पर हो सकता है अहम फैसला!
👉🏻कृषि क्षेत्र को प्रोत्साहन के लिए सरकार आगामी 2022-23 के बजट में कृषि लोन के लक्ष्य को बढ़ाकर 18 लाख करोड़ रुपए कर सकती है. सूत्रों ने यह जानकारी दी. आम बजट एक फरवरी को पेश किया जाएगा. चालू वित्त वर्ष के लिए कृषि लोन का लक्ष्य 16.5 लाख करोड़ रुपए है। 👉🏻सरकार हर साल कृषि लोन के लक्ष्य को बढ़ा रही है.सूत्रों ने बताया कि इस बार भी लक्ष्य को बढ़ाकर 18 से 18.5 लाख करोड़ रुपए किया जा सकता है. सूत्रों ने बताया कि इस महीने के आखिरी सप्ताह में बजट आंकड़ों को अंतिम रूप देते समय यह लक्ष्य तय किया जा सकता है। बढ़ रहा कृषि लोन का प्रवाह:- 👉🏻सरकार बैंकिंग क्षेत्र के लिए सालाना कृषि कर्ज का लक्ष्य तय करती है. इसमें फसल लोन का लक्ष्य भी शामिल होता है. हाल के बरसों में कृषि लोन का प्रवाह लगातार बढ़ा है और प्रत्येक वित्त वर्ष में कृषि कर्ज का आंकड़ा लक्ष्य से अधिक रहा है. उदाहरण के लिए 2017-18 के लिए कृषि लोन का लक्ष्य 10 लाख करोड़ रुपए था, लेकिन उस साल किसानों को 11.68 लाख रुपए का कर्ज दिया गया. इसी तरह वित्त वर्ष 2016-17 में नौ लाख करोड़ रुपए के फसल लोन के लक्ष्य पर 10.66 लाख करोड़ रुपए का कर्ज दिया गया। 👉🏻सूत्रों ने कहा कि कृषि क्षेत्र में ऊंचे उत्पादन के लिए कर्ज की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है. संस्थागत ऋण की वजह से किसान गैर-संस्थागत स्रोतों से ऊंचे ब्याज पर कर्ज लेने से भी बच पाते हैं. आमतौर पर खेती से जुड़े कार्यों के लिए कर्ज नौ प्रतिशत ब्याज पर दिया जाता है. लेकिन सरकार किसानों को सस्ता कर्ज उपलब्ध कराने के लिए लघु अवधि के फसल ऋण पर ब्याज सहायता देती है। किसानों को सिर्फ चार प्रतिशत देना होता है ब्याज:- 👉🏻सरकार तीन लाख रुपए तक के लघु अवधि के फसल लोन पर दो प्रतिशत की ब्याज सब्सिडी देती है. इससे किसानों को कर्ज सात प्रतिशत के आकर्षक ब्याज पर उपलब्ध होता है. इसके अलावा कर्ज का समय पर भुगतान करने वाले किसानों को तीन प्रतिशत का प्रोत्साहन भी दिया जाता है. ऐसे में उनके लिए कर्ज पर ब्याज दर चार प्रतिशत बैठती है। स्रोत:- TV 9 Hindi, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
17
0
अन्य लेख