AgroStar
किसानों के खातें में भेजे फसल बीमा!
कृषि वार्ता Kisan Samadhan
किसानों के खातें में भेजे फसल बीमा!
👉🏻प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मध्य प्रदेश के किसानों को वर्ष 2020–21 में खरीफ तथा रबी फसलों की नुकसानी का पैसा भेजा गया है | राज्य के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने बैतूल जिले में एक सभा के दौरान किसानों के बैंक खातों में एक क्लिक से बीमा राशि का हस्तांतरण किया | इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने एक सभा को संबोधित करते हुए बताया है कि वर्ष 2020–21 के खरीफ तथा रबी फसलों के नुकसानी के बीमा क्लेम के रूप में राज्य के 49 लाख से अधिक फसल बीमा दावों के भुगतान के रूप में 7618 करोड़ रूपये हस्तांतरित किये गये हैं | 👉🏻मुख्यमंत्री ने बताया की इसके पहले भी राज्य सरकार किसानों को फसलों की नुकसानी पर किसानों के द्वारा किये गये क्लेम के आधार पर बीमा राशि का भुगतान कर चुकी है | पहले हुए फसलों की नुकसानी पर राज्य सरकार ने किसानों को 2 हजार 876 करोड़ रुपए दिए हैं | 👉🏻फसल बीमा राशि कैसे निर्धारित किया गया है ? यह राशि किसानों के द्वारा किये गये दावों तथा सर्वे के आधार पर किसानों को भुगतान किया गया है | किसानों को प्रति हेक्टेयर के आधार पर तथा फसलों के नुकसान के आधार पर बीमा राशि तय की गई है | इसलिए किसानों के बीच ऐसा हो सकता है कि एक ही गांव के दो अलग–अलग भूमि का अलग–अलग मुआवजा राशि बनेगी | इसके अलावा जिले के अनुसार भी बीमा राशि अलग हो सकती है | 👉🏻मध्य प्रदेश में किस वर्ष कितना दावों का भुगतान किया गया है ? वर्ष 2016–17 से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना चलाई जा रही है | इस योजना के तहत किसानों तथा केंद्र और राज्य सरकारों के द्वारा प्रीमियम राशि फसल बीमा कम्पनी को दी जाती है | फसल नुकसानी पर किसानों को दावे के अनुसार भुगतान किया जाता है | किसान समाधान अपने पाठकों के लिए मध्य प्रदेश में अभी तक किये गये दावों तथा भुगतान की जानकारी वर्ष दर वर्ष लेकर आया है | 👉🏻वर्ष 2016–17 :- वर्ष 2016–17 के वित्त वर्ष में खरीफ तथा रबी फसलों के लिए कुल 3,778 करोड़ रूपये का प्रीमियम भुगतान किया गया था इसमें किसानों का अंश प्रीमियम राशि 723.9 करोड़ रुपए था | प्राकृतिक कारणों से फसल नुकसानी पर किसानों के द्वारा 2,043.8 करोड़ रुपए तथा जिस पर कंपनी ने शत प्रतिशत भुगतान किया है | 👉🏻वर्ष 2017–18 :- वर्ष 2017–18 के वित्त वर्ष में खरीफ तथा रबी फसलों के लिए कुल 4,663.2 करोड़ रूपये का प्रीमियम भुगतान किया गया था इसमें किसानों का अंश प्रीमियम राशि 795.7 करोड़ रुपए है | प्राकृतिक कारणों से फसल नुकसानी पर किसानों के द्वारा 5,880.4 करोड़ रुपए तथा जिस पर कंपनी ने शत प्रतिशत भुगतान किया है | 👉🏻वर्ष 2018 –19 :- इस वित्त वर्ष में खरीफ तथा रबी फसलों के लिए कुल 5,499.1 करोड़ रूपये का प्रीमियम भुगतान किया गया था इसमें किसानों का अंश प्रीमियम राशि 921.0 करोड़ रुपए है | प्राकृतिक कारणों से फसल नुकसानी पर किसानों के द्वारा 3,777.3 करोड़ रुपए तथा जिस पर कंपनी ने 3,776.3 भुगतान किया है | कंपनी के तरफ से किसानों को 1 करोड़ रुपए बकाया रह जाता है | 👉🏻वर्ष 2019 – 20 :- वित्त वर्ष में खरीफ तथा रबी फसलों के लिए कुल 3,908.5 करोड़ रूपये का प्रीमियम भुगतान किया गया था इसमें किसानों का अंश प्रीमियम राशि 653.1 करोड़ रुपया है | प्राकृतिक कारणों से फसल नुकसानी पर किसानों के द्वारा 5,898.8 करोड़ रुपया तथा जिस पर कंपनी ने 5,861.3 भुगतान किया है | कंपनी के तरफ से किसानों को 37.5 करोड़ रुपया बकाया रह जाता है | किसान समाधान से जुड़ें। स्रोत:- Kisan Samadhan 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
25
3
अन्य लेख