किसानों की होगी अच्छी कमाई!
नई खेती नया किसानAgrostar
किसानों की होगी अच्छी कमाई!
🌱आज के नया खेती नया किसान किसान में 🍓 हम स्ट्रॉबेरी की खेती के बारे में जानेंगे, ठंड के दिनों में किसान स्ट्रॉबेरी की खेती कर अच्छा मुनाफा कमा करते है. और सर्दियों के मौसम में स्ट्रॉबेरी की काफी डिमांड रहती है. ठंड के इन दिनों में किसान स्ट्रॉबेरी की खेती कर अच्छी उपज और मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं.अब स्ट्रॉबेरी की खेती पहाड़ी इलाकों या ठंडे इलाकों तक ही सीमित नहीं रह गई है. यदि मैदानी क्षेत्रों में भी सही नियोजन किया जाए तो स्ट्रॉबेरी की खेती की जा सकती है. इस फसल से किसानों को अच्छा मुनाफा भी मिल सकता है. वहीं पॉली हाउस में या संरक्षित विधि से खेती करने वाले किसान अन्य महीनों में भी बुवाई करते हैं. स्ट्रॉबेरी की बुवाई से पहले की तैयारी बहुत जरूरी है. खेत की मिट्टी पर विशेष काम करना होता है. कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक, खेत की मिट्टी को बारिक करने के बाद क्यारियां बनाई जाती है. क्यारियों की चौड़ाई डेढ़ मीटर और लंबाई अपने खेत या क्यारी के अनुसार रखना चाहिए। 🌱स्ट्रॉबेरी महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश समेत कई अन्य राज्यों में भी किसान अब खेती कर रहे हैं. सामान्य तौर पर स्ट्रॉबेरी की बुवाई सितंबर और अक्टूबर में की जाती है. लेकिन ठंडी जगहों पर इसे फरवरी और मार्च में भी बोया जा सकता है.मौजूदा समय में स्ट्रॉबेरी की डिमांड भी हर जगह बढ़ गई है.सर्दियों में स्ट्रॉबेरी की डिमांड सबसे ज्यादा होती है.स्ट्रॉबेरी सेहत के लिए भी फायदेमंद होती है. स्ट्रॉबेरी विटामिन सी से भरपूर होती है साथ ही पोटैशियम और मैग्नीशियम की वजह से स्ट्रॉबेरी खाना हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है. 🌱स्ट्रॉबेरी की उन्नत किस्में:- स्ट्रॉबेरी की कुछ खास किस्में हैं. इनमें कैमरोसा, चांडलर, ऑफरा, ब्लैक पीकॉक, स्वीडन चार्ली, एलिस्ता और फेयर फॉक्स किस्मों की स्ट्रॉबेरी की भारत में खेती की जाती है। स्ट्रॉबेरी की इन किस्मों को खेत में लगाने के बाद 40 से 50 दिनों में फसल तैयार हो जाती है. 🌱उपयुक्त मिट्टी:- स्ट्रॉबेरी लगाने से पहले, यह निर्धारित करने के लिए मिट्टी का परीक्षण करें कि मिट्टी और जलवायु स्ट्रॉबेरी के लिए उपयुक्त हैं या नहीं. यह समझ में आ जाएगा. साथ ही अधिक जानकारी के लिए आप अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों या कृषि विभाग के अधिकारियों से भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. 🌱कैसे करे रोपाई:- स्ट्रॉबेरी लगाने के लिए सबसे पहले खेत को अच्छी तरह से जुताई कर ले फिर खेत में क्यारियां तैयार कर लें. उस पर मल्चिंग पेपर लगाकर ड्रिप सिंचाई की व्यवस्था करें. या बिना मल्चिंग की भी आप लगा सकते है लेकिन ऐसे में आप के खेत में जल निकास की उचित व्यवस्था करनी होती है और रासायनिक खाद के स्थान पर गोबर और वर्मीकम्पोस्ट का प्रयोग करें. इससे स्ट्रॉबेरी की खेती में लागत कम आएगी और मुनाफा बढ़ेगा. 🌱अच्छा मुनाफा कमा सकते है किसान:- एक एकड़ क्षेत्र में 20 से 22 हजार स्ट्रॉबेरी के पौधों का रोपण उपयुक्त माना जाता है.हालाँकि, इसके लिए अच्छी तकनीक, अच्छी किस्मों के बीज, अच्छी देखभाल, स्ट्रॉबेरी का ज्ञान, मार्केटिंग का उचित उपयोग आवश्यक है. स्ट्रॉबेरी का विपणन न केवल फल के रूप में किया जाता है. इससे बना खाना भी बहुत प्रसिद्ध है. ब्यूटी प्रोडक्ट्स में भी इसका इस्तेमाल किया जा रहा है. स्ट्रॉबेरी के पर पौधे औसतन उत्पादन 500 ग्राम से लेकर 700 ग्राम तक होता है। 👉स्त्रोत:- Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
7
0
अन्य लेख