AgroStar
सलाहकार लेखAgrostar
काले फंगस को साफ करेगा सिस्टिवा, बढ़ाएगा फसल की पैदावार!
👉 आओ चलो सुनते हैं एक ऐसे किसान की कहानी जिनको थी उनके फसल में काली जड़ की परेशानी,बीकानेर के प्रभुसिंघ जी ने अपने खेत में लगा रखी थी मूंगफली की फसल! फसल में थी काली जड़! जी हाँ किसान भाइयों प्रभु सिंह जी जो की अपने फसल में काली जड़ की समस्या से पिछले 10 -12 साल से परेशान थे उन्होंने इस्तेमाल किया कुछ ऐसा जिससे उनकी फसल में मिला बेहतर उपज और काली जड़ की समस्या हो गयी छूमंतर! 👉🏻आपको बता दे हम बात कर रहे हैं बीएएसएफ की सिस्टिवा प्रोडक्ट की ! 👉🏻सिस्टिवा अपनी अनूठी ज़ाइमियम तकनीक के साथ फसल में काली जड़ो से लंबे समय तक सुरक्षा प्रदान करता है, जो रोग मुक्त फसल की शुरुआत, एक समान अंकुरण और अधिक पौधे सुनिश्चित करता है। रोगमुक्त फसल की शुरुआत - - मिट्टी के रोगों, बीज रोगों और प्रतिकूल मौसम की स्थिति से बीजों की रक्षा करता है। - काले फंगस को नियंत्रित कर फसल को स्वस्थ रखता है। समान अंकुरण - - ज़ाइमियम प्रणाली बीज में तेजी से प्रवेश करती है जिसके परिणामस्वरूप एक समान अंकुरण होता है। प्रति एकड़ अधिक पौधे - - प्रारंभिक अवस्था में वानस्पतिक वृद्धि को बढ़ाता है। - मजबूत जड़ें और बढ़ी हुई तनाव सहनशीलता प्रदान करता हैं। सिस्टिवा' की खुराक और उपयोग - - 1 मिली सिस्टिवा को 5 मिली पानी में घोलकर 1 किलो बीज फैला दें। - बीज को पॉलिथीन शीट पर फैलाएं। - बीजों पर घोल छिड़कें। - तब तक मिलाएं जब तक कि बीज पर एक समान कोटिंग न हो जाए। - मिलाने के बाद उपचारित बीजों को छाया में 1 घंटे के लिए भिगो दें। किसानों की सलाह - 'सिस्टिवा' के बारे में किसान की राय जानने के लिए देखें यह वीडियो - https://youtu.be/OXMrKZPuEg4 स्त्रोत:- Agrostar 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
2
2
अन्य लेख