AgroStar
कहीं आपका आधार कार्ड भी फर्जी तो नहीं?
समाचारAgrostar
कहीं आपका आधार कार्ड भी फर्जी तो नहीं?
🪪 देश का नागरिक होने की पहचान कराने वाला जरूरी डॉक्यूमेंट है. आज के समय में सरकारी योजनाओं का लाभ उठाना हो, या फिर नौकरी या अन्य ऐसी सेवाएं जहां पहचान पत्र का मांग की जाती है, तो आधार ही मांगा जाता है. लेकिन जिस तरह यह देशवासियों के लिए अनिवार्य हुआ है, डुप्लिकेट आधार बनाए (Duplicate Aadhar Card) जाने के मामले भी बढ़ गए हैं. अब ऐसे मामलों पर भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है. इसके तहत 6 लाख नकली आधार कार्ड रद्द किए गए हैं। UIDAI की कार्रवाई लगातार जारी - 🪪 डुप्लिकेट या नकली आधार कार्ड (Fake Aadhar Card) बनाने वाले देश में किस कदर सक्रिय हैं इसका अंदाजा UIDAI द्वारा रद्द किए गए आधार कार्ड की संख्या देखकर लगाया जा सकता है. इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने एक सवाल के जवाब में संसद में बताया कि अब तक UIDAI ने 598,999 से ज्यादा डुप्लिकेट आधार कार्ड रद्द किए हैं. उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई लगातार जारी है। फर्जी वेबसाइटों को भेजा नोटिस - 🪪 डिजिटलीकरण के इस दौर में डुप्लीकेट प्रमाणपत्रों का कारोबार करने वाले अपनी जेबें भर रहे थे. बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र और राज्य स्तर पर फर्जी आधार कार्ड बनाने वालों पर बड़ा एक्शन लिया गया. इस कार्रवाई के तहत आधार कार्ड से जुड़ी सर्विस का दावा करने वाली करीब एक दर्जन फर्जी वेबसाइटों को UIDAI ने नोटिस भी भेजा है और उन्हें चेतावनी देते हुए किसी भी तरह की सेवा देने पर रोक लगा दी गई है।   स्त्रोत:- Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
15
1
अन्य लेख