कृषि वार्ताTV 9 Hindi
ऑनलाइन मंडी में सरसों के दाम ने तोड़े अब तक के सारे रिकार्ड !
देश के प्रमुख सरसों उत्पादक प्रदेश राजस्थान के हनुमानगढ़ में सरसों के दाम के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं. इस मंडी में 5 जून को सरसों का अधिकतम मूल्य 9,496 रुपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गया. यह अपने आप में रिकॉर्ड है. इससे पहले राजस्थान में 7900 रुपये तक दाम पहुंचा था. यहां शनिवार को 1776 क्विंटल सरसों बिकने के लिए पहुंची थी. जबकि 1572 क्विंटल का कारोबार हुआ. सरसों का दाम किसी न किसी मंडी में रोजाना नया कीर्तिमान बना रहा है. यह ऑनलाइन मंडी ई-नाम का रेट है. ई-नाम प्लेटफार्म पर देश की 1000 मंडियां जुड़ी हुई हैं. ई-नाम एक इलेक्ट्रॉनिक कृषि पोर्टल है, जो देश में मौजूद एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केट कमेटी को एक नेटवर्क में जोड़ने का काम करता है. इसका मकसद एग्रीकल्चर प्रोडक्ट के लिए राष्ट्रीय स्तर पर एक बाजार उपलब्ध करवाना है. इससे किसानों को देशभर की कृषि मंडियों में कृषि जिंसों का भाव पता चलता है. इस प्लेटफार्म पर 21 राज्यों के 1,70,25,393 किसान जुड़े हुए हैं. इसके अलावा 1,63,391 ट्रेडर, 90,980 कमीशन एजेंट एवं 1,841 किसान उत्पादक संगठन भी इस पर कारोबार कर रहे हैं. बढ़ सकती है सरसों की बुवाई कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि अच्छा दाम किसानों में उत्साह भर रहा है. अगली बार इसकी बुवाई पहले से कहीं अधिक होगी. किसान गेहूं की बजाय तिलहन पर फोकस करेंगे. गेहूं खुले मार्केट में 1500 रुपये क्विंटल के रेट पर बिक रहा है जो उसके न्यूनतम समर्थन मूल्य से 475 रुपये प्रति क्विंटल कम है. जबकि सरसों इस पूरे सीजन में अपने एमएसपी 4650 रुपये से अधिक दाम पर ही बिकती रही है. सरसों अनुसंधान केंद्र भरतपुर के निदेशक डॉ. पीके राय के मुताबिक तिलहन के मामले में भारत अभी दूसरे देशों पर निर्भर है. इसलिए सरसों की अच्छी पैदावार के बावजूद किसानों को इसका अच्छा दाम मिलेगा. अच्छा दाम इसकी खेती की तरफ किसानों का झुकाव बढ़ाएगा. 👉 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत:- TV 9 Hindi, 👉प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍🏻 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
5
2
संबंधित लेख