एक जिला एक उत्पाद!
समाचारpatrika
एक जिला एक उत्पाद!
👉🏻भोपाल. एक जिला एक उत्पाद योजना केंद्र सरकार की एक योजना है, जिसमें हर जिले का कोई उत्पाद लेकर उसकी मर्केटिंग की जाएगी। इसके लिए केंद्र सरकार ने 35 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के 707 उत्पादों का चयन किया है। इस योजना के लिए एक जिले में एक से अधिक ओडीओपी उत्पादों के क्लस्टर हो सकते हैं। एक राज्य में आसपास के एक से ज्यादा जिले मिलकर ओडीओपी उत्पादों का एक समूह भी बना सकते हैं। 👉🏻योजना में राज्य एक जिले के खाद्य उत्पाद की पहचान कर प्रकार के उत्पादों की सूची बनाएगा। जैसे आम, आलू, लिची, टमाटर, किनू, भुजिया, पेठा, पापड़, आचार, मोटा अनाज आधारित उत्पाद, मछली पालन, पॉल्ट्री, मांस और जानवरों का चारा इत्यादि। इसके अलावा पारम्परिक और नवाचारी उत्पादों को सहायता दी जा सकती है। उदाहरण के लिए शहद आदिवासी क्षेत्रों में छोटे जंगली उत्पादों, हल्दी, आवंला इत्यादि जैसे पारम्परिक भारतीय हर्बल खाने योग्य पदार्थ। 👉🏻मध्यप्रदेश में यह तीन हिस्सों में बांटा गया है ⚫पहला उद्यानिकी विभाग की ओर से जारी जिलेवार उत्पाद ⚫कषि विभाग की ओर से चुनिंदा दस जिलों के लिए पफसल ⚫तीसरे उद्योग विभाग की ओर से हर जिले में एक उत्पाद 👉🏻यह उद्यानिकी विभाग की सूची में - 🍅टमाटर -अनूपपुर ,सिंगरौली ,दमोह ,रायसेन ,अशोकनगर,दतिया,झाबुआ ,कटनी,सतना ,सागर,शिवपुरी 🍊 संतरा / सिट्रस -आगर मालवा ,राजगढ़ सीताफल -अलीराजपुर ,धार ,सिवनी अदरक -बड़वानी ,निवारी ,टीकमगढ़ 🥭आम - बैतूल ,उमरिया ,सीधी अमरूद -भोपाल ,होशंगाबाद,श्योपुर ,सीहोर 🍌केला - बुरहानपुर सुपारी - छतरपुर 🥔आलू - छिंदवाड़ा ,देवास ,इंदौर,ग्वालियर धनिया - गुना ,नीमच 🧅प्याज - हरदा,खंडवा ,उज्जैन,विदिशा ,शाजापुर हरी मटर - जबलपुर 🌶️मिर्च - खरगोन आंवला - पन्ना 🧄लहसुन - रतलाम ,मंदसौर हल्दी - शहडोल ,रीवा स्रोत:-patrika, 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
12
3
अन्य लेख