AgroStar
इस पौधे की खेती करेके पाये लाखों का फायदा!
नई खेती नया किसानAgrostar
इस पौधे की खेती करेके पाये लाखों का फायदा!
👉नमस्कार किसान भाइयों अगर आप खेती करना चाहते हैं और एक ही समय में बहुत सारा पैसा कमाना चाहते हैं, तो हमारे पास एक बेहतर आइडिया है। इसमें आप खेत न होने पर भी खेती कर सकते हैं। देश में औषधीय पौधे उगाने वालों की संख्या इस समय तेजी से बढ़ रही है। किसान अच्छा पैसा कमा रहे हैं क्योंकि वे उतना नहीं बना रहे हैं जितना उन्हें चाहिए और बहुत अधिक मांग है। इसके साथ ही सरकार किसानों को अधिक से अधिक औषधीय पौधे उगाने का भी प्रयास कर रही है ताकि वे अधिक पैसा कमा सकें। 👉लोगों को बेहतर होने में मदद करने वाले पौधे उगाने के लिए आपको बड़े खेत या बहुत अधिक धन की आवश्यकता नहीं है। इस तरह की खेती के लिए आपके पास अपना खेत भी नहीं होना चाहिए। आप इसे अनुबंध पर भी प्राप्त कर सकते हैं। कई कंपनियां इन दिनों ठेके पर औषधीय पौधा उगाती हैं। इन्हें उगाना शुरू करने के लिए आपको केवल कुछ हज़ार रुपये की ज़रूरत है, लेकिन आप इनसे बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं। किन चीजों की करें खेती:- 👉स्टेविया, शतावरी, सर्पगंधा, तुलसी, आर्टेमिसिया एनुआ, लिकोरिस, एलो वेरा, शतावरी और इसबगोल सहित अधिकांश हर्बल पौधों को बगीचे में उगाया जा सकता है। आप इनमें से कुछ पौधों को छोटे गमलों में भी उगा सकते हैं। किसानों को इसकी अच्छी कीमत इसलिए मिलती है क्योंकि इसका उपयोग दवा और आयुर्वेद में किया जाता है। तीन महीने में कमा सकते हैं 3 लाख रुपए! 👉तुलसी को आमतौर पर एक धार्मिक पौधा माना जाता है, लेकिन इसे इसके औषधीय गुणों के लिए भी उगाया जा सकता है। तुलसी कई प्रकार की होती है, और उन सभी में यूजेनॉल और मिथाइल दालचीनी होती है। इनका उपयोग कैंसर जैसी बीमारियों की दवा बनाने के लिए किया जाता है जो बहुत खतरनाक होती हैं। तुलसी को 1 हेक्टेयर में सिर्फ 15,000 रुपये में उगाया जा सकता है, लेकिन 3 महीने बाद इसे लगभग 3 लाख रुपये में बेचा जा सकता है। स्टीविया की खेती से होगा मोटा मुनाफा:- 👉स्टीविया उगाने की सबसे अच्छी बात यह है कि आपको उर्वरकों या कीटनाशकों का उपयोग नहीं करना पड़ता है। सच तो यह है कि कीड़े पौधे को नुकसान नहीं पहुंचाते। साथ ही एक बार फसल लगाने के बाद 5 साल तक पैदावार की गारंटी होती है और हर साल पैदावार बढ़ती जाती है। किसानों का कहना है कि एक एकड़ जमीन पर स्टीविया उगाने में 1 लाख रुपये का खर्च आता है और इससे 6 लाख रुपये तक आ सकते हैं। दूसरे शब्दों में, किसान कुल 5 लाख बनाता है। यही कारण है कि अभी बहुत सारे किसान स्टीविया उगा रहे हैं। 👉जैसे-जैसे संयुक्त राज्य अमेरिका और दुनिया भर में मधुमेह से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ी है, वैसे ही स्टीविया की मांग भी बढ़ी है। स्टीविया के पौधे की ऊंचाई 60 से 70 सेमी होती है। स्टीविया एक ऐसा पौधा है जो लंबे समय तक जीवित रहता है और इसकी कई शाखाएं होती हैं। भले ही स्टीविया की पत्तियां अन्य पौधों की पत्तियों की तरह दिखती हैं, लेकिन वे चीनी की तुलना में 25-30 गुना अधिक मीठी होती हैं। भारत में, पौधे बैंगलोर, पुणे, इंदौर और रायपुर जैसे स्थानों में उगाया जाता है। स्टीविया पराग्वे, जापान, कोरिया, ताइवान और संयुक्त राज्य अमेरिका में अन्य स्थानों में उगाया जाता है। ट्रेनिंग जरूर लें! औषधीय पौधे उगाने के लिए आपको अच्छी ट्रेनिंग लेने की जरूरत है ताकि भविष्य में आप फट न जाएं। लखनऊ के सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिसिनल एंड एरोमैटिक प्लांट्स (सीआईएमएपी) में लोग इन पौधों को उगाना सीख सकते हैं। दवा कंपनियाँ भी CIMAP के माध्यम से आपके साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर करेंगी, जिससे आपको जगह-जगह भाग-दौड़ नहीं करनी पड़ेगी। स्रोत :--Agrostar 👉किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
18
3
अन्य लेख