नई खेती नया किसानTV 9 Hindi
इस खास फसल की खेती तो करिए, होगी मोटी कमाई !
👉 भारत एक कृषि प्रधान देश है और इस क्षेत्र में आपार संभावनाएं भी हैं. किसान अब इन संभावनाओं को अपने लिए अवसर बना रहे हैं. अब तक सिर्फ पारंपरिक खेती करने वाले किसान अधिक आय देने वाली फसलों की तरफ रुख कर रहे हैं. 👉 किसान अब तक सिर्फ पारंपरिक खेती करने वाले किसान अधिक आय देने वाली फसलों की तरफ रुख कर रहे हैं. केंद्र सरकार किसानों की आय दोगुना करने के लिए प्रयासरत तो है ही, साथ ही किसान भी अपनी तरफ से कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं. 👉 धान, गेहूं, मक्का, सोयाबीन, दलहन और तिलहन की खेती करने वाले देश के किसान इन फसलों के साथ ही अब अलग किस्स के पौधों की खेती करने लगे हैं. इसी प्रकार का एक औषधीय पौधा है ब्राह्मी. आयुर्वेद की दृष्टि से इसे काफी महत्वपूर्ण माना जाता है. कुछ लोग इसे ब्रेन बूस्टर भी मानते हैं. तेल से लेकर तमाम दवाइयों के निर्माण में इसका इस्तेमाल होता है. सभी राज्यों में होती है खेती 👉 ब्राह्मी जैसे पौधों के उत्पाद भी मांग में तेजी आई है. हालांकि उत्पादन नहीं होने से कंपनियों को अन्य देशों से भी इसे मंगाना पड़ता है. लेकिन भारत में एक बड़ा इलाका ब्राह्मी की खेती के लिए उपयुक्त है. 👉 ब्राह्मी की खेती उष्णकटिबंधीय जलवायु में आसानी से की जा सकती है. इसकी खेती के लिए सामान्य तापमान सबसे उपयुक्त होता है. तालाब, नदी, नहर और जलीय स्रोतों के किनारे ब्राह्मी के पौधे जंगली रूप में उग आते हैं. भारत में कमोबेश सभी राज्यों में इसकी खेती होती है. एक फसल से तीन-चार बाद पैदावार हासिल करते हैं किसान 👉 ब्राह्मी की खेती धान की तरह होती है. यानी पहले नर्सरी डालकर पौध तैयार की जाती है. इसके बाद पहले से तैयार खेत में इसकी रोपाई होती है. खेती करने वाले किसान बताते हैं कि इसके पौधों की रोपाई मेड़ पर लगभग आधा फीट की दूरी पर करनी चाहिए. प्रत्येक मेड़ के बीच लगभग 25 से 30 सेंटीमीटर के आस-पास की दूरी होनी चाहिए. इस तरह से रोपाई करने पर पैदावार अच्छी होती है और किसानों को इसका लाभ मिलता है. 👉 रोपाई के बाद निराई और सिंचाई जरूरी है. किसान बताते हैं कि रोपाई के चार महीने बाद ब्राह्मी की फसल पहली कटाई के लिए तैयार हो जाती है. इस फसल से किसान साल में तीन से चार बाद पैदावार हासिल करते हैं. इसी कारण यह मोटी कमाई का जरिया बन जाता है. ब्राह्मी की पत्तियां और जड़ों की बिक्री होती है. 👉 गहलोत सरकार ने दी किसानों को बड़ी राहत, फसल ऋण में बड़ी राहत, जानने के लिए 👉ulink://android.agrostar.in/articleDetail?articleId=Article_20210610_RJ_KV_5PM&latestArticle=false&otherArticlesAvailable=false क्लिक करें। स्रोत:- TV 9 Hindi, 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। इस वीडियो में दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
6
2
संबंधित लेख