सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
आलू के कंदों को मोटा करने के उपाय!
👉🏻किसान भाइयों आलू हमारी प्रमुख सब्जी फसल है जोकि नकदी फसल के रूप में भी उगाई जाती है जिससे बाजार मूल्य व उत्पादन अच्छा पाने के लिए कंदों का पूर्ण विकाश अत्यंंत आवश्यक है। जिससे कम क्षेत्र में अधिक से अधिक व गुणवत्त्ता पूर्ण उत्पादन प्राप्त हो सके। कंदो के उचित विकास के लिए इन घुलनशील उर्वरकों का प्रयोग करें। 👉🏻बुवाई के 55-60 दिन बाद 00:52:34 @ 1 किलोग्राम प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें या 3 किलोग्राम ड्रिप के माध्यम से दें। 👉🏻बुवाई के 75-80 दिनों के बाद घुलनशील उर्वरक 00:00:50 @ 1 किग्रा० प्रति एकड़ 200 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें या 3 किग्रा० प्रति एकड़ ड्रिप के माध्यम से दें। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
44
18
संबंधित लेख