आलू की फसल में मिट्टी चढाने के फायदे!
गुरु ज्ञानAgrostar
आलू की फसल में मिट्टी चढाने के फायदे!
👉किसान भाइयों आलू की फसल में मिट्टी दो लाइनों के बीच से लेकर फसल की लाइनों यानि मेड़ों पर चढ़ाते हैं। इस प्रक्रिया को अपनाने से आलू के कंदों का अच्छा विकास होता है तथा आलू के कंद सीधे सूर्य के प्रकाश के संपर्क में नहीं आते हैं। कंदों के सीधे सौर प्रकाश के संपर्क में आने से कंदों का रंग हरा हो जाता है तथा उनमे एक विषैले पदार्थ सोलेनिन का निर्माण हो जाता है जिसके कारण आलू बेस्वाद व कड़वा हो जाता है। आलू हरा हो जाने पर वह खाने योग्य नहीं रह पाता तथा बाजार में उचित मूल्य भी नहीं मिलता। इस समस्या से बचाव के लिए जब आलू की फसल में कंद बनने लगें तो पंक्ति के किनारों मिटटी लेकर कंदो को भली प्रकार ढक देना चाहिए तथा आवश्यकता पड़ने पर इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है। और पौधे को पाले से बचने के लिए सल्फर 90% 3 किलोग्राम /एकड़ की दर से अपने आलू की फसल में किसी दानेदार खाद के साथ मिला कर प्रयोग करें। 👉स्रोत:- Agrostar किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
17
4
अन्य लेख