सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
आइये जानते हैं, पौधों में ह्युमिक एसिड के लाभ!
ह्युमिक एसिड क्या है:- 👉🏻 यह एक प्रकार का खनिज कार्बनिक तत्व है जो पौधों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है जो पौधों की जड़ो का विकास करता है। 👉🏻 जो पौधों की ग्रहण क्षमता को बढाता है जिससे पौधे स्वस्थ होते है और मिट्टी से आवश्यक पोषक तत्व अवशोषित करते है ह्युमिक एसिड एक प्रकार से पौधों के लिए पाचनतंत्र का हिस्सा भी माना जाता है यह पौधों के मेटाबोलिज्म के अन्दर जाकर जिस तत्व की कमी है उसकी पूर्ति कराता है इससे पोधे का हरा रंग बढता है और पौधों के विकास में फायदा देता है। फसलो में ह्युमिक एसिड का उपयोग 👉🏻 किसान भाई मुख्य रूप से पोधो की जड़ों को गहरा करने के लिए ह्युमिक एसिड का उपयोग अपने खेत में करते है जिससे फसल के उत्पादन में ज्यादा लाभ मिलता है ह्युमिक एसिड मिट्टी से आवश्यक पोषक तत्वों को बहने से रोकने में सक्षम होता है जिससे मिट्टी की उत्पादन शक्ति बढती है और किसानों को अधिक मुनाफा मिलता है। 👉🏻 किसान भाई इसका उपयोग बुवाई के समय करें जिससे बीज की ग्रोथ अच्छी होती है तथा पोधा भी स्वस्थ रहता है। हृमिक एसिड का 70 % कार्य मिट्टी में होता है तथा 30 % कार्य पत्तियों पर होता है। इसका सबसे महत्वपूर्ण काम ये है कि ये मिट्टी को भुरभुरी करता है, जिससे जड़ों का विकास अधिक होता है। 👉🏻 ये प्रकाश संश्लेषण की क्रिया को तेज करता है, फसल की उत्पादन बढ़ाने के लिए जो रासायनिक खाद हम मिट्टी में डालते हैं उसका केवल 25-30 % ही पौधों को प्राप्त हो पाता है।शेष मिट्टी में जम जाता है या पानी में बह जाता है। शेष ह्यूमिक एसिड मिट्टी में अधुलनशील खाद को घोलकर पौधों को उपलब्ध कराता है इसका उपयोग हम पौधों में फल लगने के समय भी कर सकते है। ह्युमिक एसिड के लाभ 👉🏻 ये मिट्टी को भुरभुरी करता है, जिससे जड़ों का विकास अधिक होता है। 👉🏻 ये प्रकाश संश्लेषण की क्रिया को तेज करता है, जिससे पौधे में हरापन आता है और शाखाओं में वृद्धि होती है। 👉🏻 मिट्टी की उर्वरा शक्ति में वृद्धि करता है 👉🏻 ये पौधे की तृतीयक जड़ों का विकास करता है जिससे पोषक तत्वों का अवशोषण अधिक हो सके। 👉🏻 पौधे में फलों और फूलों की वृद्धि करता है। 👉🏻 पौधे की चयापचयी क्रियाओं में वृद्धि करता है। 👉🏻 उपज में भी वृद्धि होती है। 👉🏻 बीज की अंकुरण क्षमता बढाता है तथा पौधों को प्रतिकूल वातावरण से भी बचाता है। 👉🏻 पौधों की बढ़ती अवधि के दौरान कार्बनिक उत्प्रेरक के रूप में कार्य करना। 👉🏻 मिट्टी में प्रजनन और फायदेमंद सूक्ष्मजीवो के विकास को प्रोत्साहित करना। 👉🏻 रोगों और कीड़ों से लड़ने की फसल की क्षमता में सुधार। 👉🏻 पौधों में खनिज पदार्थों और विटामिन की प्रतिशतता में वृद्धि। पौधों में ह्युमिक एसिड की सही मात्रा:- 👉🏻 मिट्टी में ह्युमिक एसिड की सही मात्रा होने पर भूमि की उपजाऊ शक्ति बढती है जिससे उत्पादन अधिक होता है ह्युमिक एसिड एक प्रकार का पौधों को सूक्ष्म तत्व प्रदान करने वाला सहायक पदार्थ है। 👉🏻 यूरिया या अन्य मिश्रित (मिश्रित) उर्वरक के साथ मिश्रण करना बेहतर होता है। ह्यूमिक एसिड उर्वरक का छिड़काव भी किया जा सकता है। आम तौर पर, फसल को भरने के प्रारंभिक चरण में फूलने के बाद, अनाज को पूर्ण बनाने, अनाज के वजन को बढ़ाने में। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, 👉🏻 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। यदि दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
53
7
अन्य लेख