सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
अरंडी फसल के लिए बुआई की विधियाँ और साधन!
🌱प्रिय किसान भाइयों खरीफ के सीजन में अरंडी की खेती की संपूर्ण जानकारी के लिए इस लेख को पूरा पढ़े! 👉साधरणतः देसी हल चलाने के बाद अरंडी की बुआई करें। उपलब्ध होने पर फर्टीड्रिल, पोरा टचूब, फैस्को हल और एकल कतार बीज ड्रिल से उचित नमी के स्थान पर बीज रखें। बुआई से पहले 24-28 घण्टे तक बीजों को भिगो कर रखें। लवणीय मिट्टी हो तो बुआई से पहले बीजों को 3 घण्टे तक 1 प्रतिशत सोडियम क्लोराइड में भिगोयें। इसके बाद बुआई करें। 👉किसान भाइयों इस प्रकार से बोआई करने से आपको उत्पादन भी अच्छा मिलेगा और रोग प्रतिरोधक छमता भी आपकी फसल में बढ़ेगी! स्त्रोत:- Agrostar India 👉 प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक 👍 करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
18
7
अन्य लेख