क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कीट जीवन चक्रएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
अरंडी की फसल में सेमीलूपर इल्ली का जीवन चक्र!
अरंडी में सेमीलूपर इल्ली सर्वाधिक क्षति पहुँचती है, जिससे तिलहनी फसल को बहुत अधिक नुकसान होता है। इस इल्ली का प्रकोप मुख्य रूप से जुलाई से सितंबर के महीनों में होता है। यह कई अलग-अलग पौधों की प्रजातियों पर जीवन निर्भाह करती है। अंडा:- मादा पतंगा पत्तियों पर लगभग 450 नीले हरे गोल अंडे देती है। पत्तियों के दोनों किनारों पर अंडे को अकेले रखा जाता है। अंडे गोल होता है, रंग में हरे रंग का पीला और व्यास में लगभग 0.9 मिमी होता है। 2 से 5 दिनों के भीतर फूटते हैं।
सूंडी (इल्ली):- अंडे से निकलने के बाद इल्ली हल्के भूरे रंग के सिर और वक्ष के साथ पीले और हरे रंग में 3.5 मिमी लंबे होती है। पूर्ण विकसित इल्ली भूरी होती है और 60 से 70 मिमी तक लम्बी होती है। यह इल्ली अवस्था में पांच त्वचा निर्मोचन करती है। इल्ली की अवधि 12 से 13 दिनों तक रहती है। कृमिकोष:- कृमिकोष का रंग लाल भूरा होता है, जिसकी लंबाई लगभग 0.25 इंच होती है। गिरे हुए पत्तों के बीच या कभी-कभी पौधे पर मुड़ी हुई पत्तियों के बीच में होता है। कृमिकोष की अवधि 10 से 27 दिनों तक रहती है। प्रौढ़:- प्रौढ़ कीट 2 इंच के पंखों के साथ 5/8 इंच लंबा होता है। आगे के पंख भूरे-रंग के होते हैं और आगे पंख के पास काले और सफेद चमकीले धब्बों के साथ भूरे होते हैं। मादा कृमिकोष से निकलने के 2 से 5 दिन बाद अंडे देना शुरू कर देती हैं। क्षति के लक्षण:- • इल्ली पत्तियों को और कभी-कभी पूरी फसल को नष्ट कर देती हैं। • पत्तियाँ ख़राब हो जाती हैं। • वृद्ध इल्ली पौधों की टहनियों, शिराओं आदि को कहती हैं। प्रबंधन:- • शुरुआती अवस्था के दौरान इल्ली को हाथ से पकड़कर नष्ट करें। • नीम के बीज की गिरी का अर्क 4% अंडे और शुरुआती इल्ली अवस्था के साथ सिंक्रनाइज़ करना। • प्रति एकड़ T आकर के 8 से 10 ट्रैप को स्थापित करें। • डाइमेथोएट 30.00% ईसी @ 462 मिली या मैलाथियोन 50.00% ईसी @ 800 मिली प्रति 200 लीटर पानी में मिलाकर प्रति एकड़ छिड़काव करें। स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर ऑफ एक्सिलेंस यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे तो लाइक करें और अपने किसान मित्रों के इसे साथ साझा करें।
62
3
संबंधित लेख