क्षमाा करें, यह लेख आपके द्वारा चुनी हुई भाषा में नहीं है।
Agri Shop will be soon available in your state.
कृषि वार्तापत्रिका
अब घर बैठे ऐसे बनवाएं KCC और पाएं 4% ब्याज पर लोन, SMS की भी सुविधा!
👉🏻किसान क्रेडिट कार्ड या केसीसी केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए की गई एक पहल है ताकि देश के किसानों को उचित ब्याज दर पर लोन मिल सके। ऑनलाइन किसान क्रेडिट कार्ड के लिए कैसे आवेदन करें? 👉🏻किसानों को सरकारी योजनाओं का लाभ आसानी से मिल सके, इसके लिए केंद्र व राज्य सरकारों की ओर से समय-समय पर नई-नई पहल की जाती हैं। इसी क्रम में किसान आसानी से अपना Kisan Credit Card बनवा सकें इसके लिए ऑनलाइन सेवा शुरू की गई है, इसके लिए किसान ‘किसान सेवा पोर्टल’ पर जाकर आवेदन कर सकते हैं या फिर सीधे http://mkisan.gov.in/hindi/wbreg.aspx लिंक पर जाकर केसीसी के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें? 👉🏻केसीसी रजिस्ट्रेशन के लिए जैसे ही आप लिंक पर विजिट करेंगे। 👉🏻सबसे पहले आपसे मोबाइन नंबर मांगा जाएगा। 👉🏻उसके बाद आपके फोन पर एक वेरीफिकेशन कोड आएगा। 👉🏻वेरीफिकेशन कोड डालते ही रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 👉🏻पूरा डिटेल डालने के बाद Kisan Credit Card रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। उसके बाद पंजीकरण नंबर मिल जायेगा। केसीसी लोन के लिए SMS से भी करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन 👉🏻किसान क्रेडिट कार्ड का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए किसान भाई 51969 या 773829 9899 पर एक SMS भेजकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके लिए आपको SMS बॉक्स में टाइप करना होगा- "किसान GOV REG < नाम > , <राज्य का नाम>, <जिला का नाम>, <ब्लॉक का नाम > (राज्य, जिला और ब्लॉक के नाम के केवल पहले 3 वर्णों की आवश्यकता होती है) मैसेज लिखने के बाद 51969 या 7738299899 पर भेज दें। मैसेज लिखते समय अल्पविराम (,) का विशेष ध्यान रखें। किसान क्रेडिट कार्ड पर लगता है 4% सालाना ब्याज 👉🏻किसान क्रेडिट कार्ड के लोन के ब्याज पर भारत सरकार 2% सब्सिडी दे ही है। इतना ही नहीं सही समय पर केसीसी का लोन चुकाने वालों को सरकार की तरफ से 3% की प्रोत्साहन छूट भी दी जाती है। किसान क्रेडिट कार्ड पर सालाना ब्याज 4% देना होता है। स्रोत:- पत्रिका, 👉🏻प्रिय किसान भाइयों अपनाएं एग्रोस्टार का बेहतर कृषि ज्ञान और बने एक सफल किसान। दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍🏻करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
44
8
संबंधित लेख