AgroStar
अब किसान भेज सकते हैं कृषि बजट के लिए सुझाव!
कृषि वार्ताTV9
अब किसान भेज सकते हैं कृषि बजट के लिए सुझाव!
👉🏻राजस्थान की सरकार के एलान के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2022-23 में अलग से कृषि बजट पेश किया जाएगा. इसकी संभाग स्तरीय बजट पूर्व चर्चा के तहत मंगलवार को जोधपुर जिले के कृषि अनुसंधान केन्द्र मण्डोर सभागार में एक बैठक आयोजित की गई. संभाग के प्रगतिशील किसानों, पशुपालकों, डेयरी संघों के पदाधिकारियों व कृषक उत्पादक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बजट पूर्व चर्चा हुई, जिसमें कई महत्वपूर्ण सुझाव मिले! 👉🏻कृषि आयुक्त डॉ. ओम प्रकाश ने बताया कि कृषि आयुक्त पंत कृषि भवन जनपथ, जयपुर के पते पर डाक द्वारा कृषि बजट के लिए अपने सुझाव भेज सकते हैं. विभाग की ईमेल आईडी (agribudget@rajasthan.gov.in) के माध्यम से भी सुझाव भेजे जा सकते हैं! कृषि बजट में शामिल होंगे सुझाव:- 👉🏻इस अवसर पर जोधपुर के संभागीय आयुक्त डॉ. राजेश शर्मा ने कहा कि सरकार की अलग से कृषि बजट प्रस्तुत करने की बजट घोषणा कृषि व उससे जुड़े सभी वर्गों के लिए महत्वपूर्ण है. इसी को लेकर संभाग स्तर पर कृषि के जुड़े प्रतिनिधियों से चर्चा हो रही है. सीधे सुझाव लिए जा रहे हैं और इसी आधार पर महत्वपूर्ण सुझावों को कृषि बजट में शामिल किया जाएगा! किसानों को मिलेगा फायदा - 👉🏻जोधपुर जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह ने कहा कि यहां मिले सुझावों को राज्य सरकार को भेजा जाएगा. कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बीआर चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार का अलग कृषि बजट प्रस्तुत करने का निर्णय प्रदेश के किसानों व इनसे जुड़े अन्य कार्यों को सीधा फायदा पहुंचाएगा. कार्यक्रम में कृषि विपणन बोर्ड के प्रशासक सोहनलाल शर्मा भी उपस्थित थे! 👉🏻कृषि बजट पूर्व संवाद के दौरान जोधपुर, पाली, जालोर, सिरोही, बाड़मेर व जैसलमेर से किसान, सहकारिता, पशुपालन, डेयरी के जुड़े संगठनों के पदाधिकारी मौजूद रहे! 30 लाख पशुओं के टीकाकरण का दावा - 👉🏻राजस्थान सरकार ने दावा किया है कि ‘प्रशासन गांवों के संग’ अभियान के तहत आयोजित 9056 शिविरों में 21 लाख 31 हजार पशुओं का आवश्यक उपचार एवं 29 लाख 9 हजार पशुओं का टीकाकरण किया गया है. जबकि 30 लाख 31 हजार पशुओं को कृमिनाशक दवा पिलाई गई है. इसी तरह 23 लाख 35 हजार पशुओं पर कृमिनाशक दवा का छिड़काव एवं बांझपन से ग्रसित 1 लाख 12 हजार पशुओं का उपचार किया गया है! 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं पशुपालन गतिविधियों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड के आवेदन पत्र तैयार करवाए गए हैं. जिसके माध्यम से डेयरी, भेड़-बकरी एवं मुर्गीपालन के लिए अल्पकालीन ऋण सुविधा मिलेगी. पशुपालन विभाग की शासन सचिव डॉ. आरूषी मलिक ने बताया कि शिविरों के माध्यम से पशुपालकों को विभागीय कार्यक्रमों एवं योजनाओं की जानकारी दी जा रही है! स्त्रोत:- TV9 👉🏻किसान भाइयों ये जानकारी आपको कैसी लगी? हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं और लाइक एवं शेयर करें धन्यवाद!
15
1
अन्य लेख