ਮਾਫ ਕਰਨਾ, ਇਹ ਲੇਖ ਤੁਹਾਡੀ ਚੁਣੀ ਗਈ ਭਾਸ਼ਾ ਵਿੱਚ ਉਪਲਬੱਧ ਨਹੀਂ ਹੈ।
AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
19 May 19, 06:00 PM
कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
केंद्र ने महाराष्ट्र, गुजरात समेत 6 राज्यों को सूखे से किया आगाह
केंद्रीय जल आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देश में कहा गया कि बांध और जलाशयों में पानी तेजी से सूख रहा है। पिछले एक सप्ताह में पानी की मात्रा 2 प्रतिशत से कम हुई है। नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु को सलाह दी है कि वो समझदारी से पानी का इस्तेमाल करें। केंद्रीय जल आयोग (सीडब्ल्यूसी) द्वारा जारी दिशा-निर्देश में कहा गया कि बांध और जलाशयों में पानी तेजी से सूख रहा है। पिछले एक सप्ताह में पानी की मात्रा 2 प्रतिशत से कम हुई है। इसलिए राज्यों को सलाह दी जाती है कि वे पानी का इस्तेमाल बहुत सूझ-बूझ से करें। जब तक पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं आ जाता तब तक इनका इस्तेमाल केवल पीने के पानी के रूप में करें।
बता दें कि केंद्र की ओर से राज्यों को सूखा संबंधी दिशा-निर्देश तब दिए जाते हैं जब विभिन्न जल स्रोतों जैसे बांध, झील, तालाब आदि में 20 प्रतिशत से भी कम पानी रह गया हो। चूंकि जल राज्यों की सूची में आता है, इसलिए केंद्र इस मामले में सिर्फ राज्यों को सलाह दे सकती है। देश के प्रमुख 91 जल स्रोतों की निगरानी करने वाले जल आयोग ने जो आंकड़े जारी किए उसके मुताबिक देश में सिर्फ 35.99 अरब घन मीटर पानी का ही भंडारण शेष है। यह सभी जल स्रोतों के भंडारण की कुल क्षमता का 22 फीसदी ही है। 9 मई को यह 24 फीसदी था। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 18 मई 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
39
7