क्षमस्व, हा लेख आपण निवड केलेल्या भाषामध्ये नाही
कृषी वार्ताकृषि जागरण
बाइक इंजन से छात्र ने बनाया मिनी ट्रैक्टर, जानिए इसकी खासियत!
आज के समय में कुछ भी करना असंभव नहीं है। इंसान चाहे तो कुछ भी कर सकता है पर कुछ कर दिखाने का दिल में जज्बा होना चाहिए। कुछ ऐसा ही काम करके दिखाया है हरियाणा के टाहली गांव में रहने वाले किसान दिलबाग संधू के 16 वर्षीय बेटे मेहर सिंह ने। उन्होंने अपनी प्रतिभा के बल पर मोटरसाइकिल इंजन से एक मिनी ट्रैक्टर बनाया है। जो एक बेहद शानदार मॉडल है, तो आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से। कैसे आया ये आईडिया? मेहर सिंह डीजल मैकेनिकल के छात्र हैं। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन लगने की वजह से घर बैठे कुछ अलग करने का विचार आया कि ऐसा कुछ किया जाए जो दूसरे लोगों के लिए प्रेरणा बनें। जिसके बाद उन्होंने अपने घरवालों को ट्रैक्टर बनाने की इच्छा जताई और उनके घरवालों ने भी पूरा सहयोग दिया। जिसके बाद उन्होंने Maruti 800 का गियर बाक्स, बाईक का ईंजन व ट्रैक्टर के जरूरी पार्ट्स हरियाणा, पंजाब से लाकर ये मिनी ट्रैक्टर बनाया। कितने समय में तैयार हुआ ये ट्रैक्टर इस मिनी ट्रैक्टर को बनाने के लिए लगभग 5 महीने का समय लगा। उनके पास एक पुराना मोटरसाइकिल था। उसका इंजन उन्होंने ट्रैक्टर में इस्तेमाल किया। मेहर ने जो कुछ भी ITI में सीखा था उसे प्रैक्टिकली अजमाने का ये उनके पास अच्छा अवसर था। इसे बनाने के लिए कुछ पार्ट्स की आवश्यकता थी जो उन्हें बाजार से आसानी से मिल गए। इस मिनी ट्रैक्टर की बॉडी उन्होंने घर पर वेल्डिंग सिस्टम की मदद से खुद ही तैयार की। कितना आया ट्रैक्टर पर खर्च? इस मिनी ट्रैक्टर को बनाने में लगभग 38 से 40 हजार रुपए तक का खर्च आया है। कितने किवटंल वजन की है इसमें क्षमता इस ट्रैक्टर में 125 CC बाईक का इंजन है जोकि 5 किवटंल तक वजन उठा सकता है। ये ट्रैक्टर आमतौर पर पशुओं के लिए चारा लाना, खाद व बीज आदि ढ़ोने में काफी ज्यादा कारगर होगा। स्रोत:- कृषि जागरण, 16 सितंबर 2020, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
58
4
संबंधित लेख