कृषि वार्तापत्रिका
अब खेती किसानी के प्रचार का काम करेंगे डाकिए, डाक विभाग का सहयोग लेने जा रहा कृषि विभाग!
👉उत्तर प्रदेश में कृषि कार्यक्रमों व खेती किसानी से जुड़ी योजनाओं से लेकर नई तकनीक एवं बीजों की नई किस्मों की जानकारी और किसानों तक डाकिया द्वारा पहुंचाया जाएगा। उत्तर प्रदेश कृषि विभाग इसके लिए डाक विभाग का सहयोग लेने जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार कोविड-19 के कारण कृषि के प्रचार-प्रसार की सारी गतिविधियां ठप पड़ जाने के कारण सरकार यह कदम उठाने जा रही है। ताकि किसानों को समय से उनकी जरूरत की सूचनाएं एवं तकनीक पहुंच सके। 👉लॉकडाउन व कोरोनावायरस के कारण कृषि प्रसार की कमोबेश सारी योजनाएं ठप पड़ गई हैं। न किसान पाठशालाएं लगाई जा रही हैं न ही किसान मेले व प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। ऐसे में किसानों तक उनकी जरूरत की सारी सूचनाएं एवं जानकारियां समय से पहुंचे, इसके लिए कृषि विभाग की ओर से नया प्रयास शुरू किया गया है। इसके तहत डाक विभाग का सहयोग लेकर डाकिए के माध्यम से प्रचार-प्रसार की सामग्री किसानों तक पहुंचाई जाएगी। 👉रबी, खरीफ व जायद की तैयारियों से लेकर इन तीनों सीजन में बोई जाने वाली फसलों की देख रेख कैसे करें। कैसे सिंचाई करें और कैसे हार्वेस्टिंग करें इसके बारे में किसानों को बताया जाता है। इन सब जानकारियों के लिए कृषि विभाग की ओर से हर सीजन में हर फसल के लिए छोटी से छोटी सूचनाएं एवं जानकारियां देने के लिए पुस्तकें प्रकाशित कर किसानों के बीच वितरित की जाती है। खेती से संबंधित साहित्य किसानों तक पहुंचाएंगे। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 क्लिक करें। स्रोत-पत्रिका, प्रिय किसान भाइयों यदि आपको दी गयी जानकारी उपयोगी लगी तो इसे लाइक👍करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद।
17
3
संबंधित लेख