एग्री डॉक्टर सलाहएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
केले का अच्छा वृद्धि एवं विकास!
👉🏻केला से भरपूर उपज प्राप्त करने के लिए खाद एवं उर्वरकों का उपयोग मृदा परीक्षण के बाद अनुसंशा के अनुसार करें। सामान्यतः केला की फसल मे प्रति पौधा प्रति वर्ष गोबर की खाद 5 कि.ग्रा., नीम की खली 250 ग्राम, सिंगल सुपर फॉस्फेट 300 ग्राम, पोटाश 500 ग्राम एवं यूरिया 550 ग्राम प्रति पौधा के हिसाब से दें। गोबर की खाद, नीम खली एवं सिंगल सुपर फॉस्फेट की पूर्ण मात्रा पौधा लगाते समय तथा यूरिया एवं पोटाश एक माह के अन्तराल पर सात से आठ बार मे दें । 👉🏻खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी क्लिक ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 करें।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, यदि आपको आज के सुझाव में दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद।
6
4
संबंधित लेख