सलाहकार लेखउत्तर प्रदेश कृषि विभाग
गन्ने में ऐसे करें सफ़ेद गिडार की समस्या का निवारण
वयस्क(गुबरैले) कीट मानसून की पहली वर्षा के बाद से पत्तियाँ को खाकर क्षति पहुंचाते है। कीट के गिडार सफेदमटमैले रंग की होते है जो पौधे की जड़ को खाकर क्षति पहुंचाते है। फलस्वरूप गन्ने का थान जड़ से सूखकर गिर जाता है। इसके नियंत्रण  लिए  फिप्रोनिल 40.0%+इमिडाक्लोप्रिड 40.0%डब्ल्यू जी  @ 175 से 200 ग्राम  एकड़ को 400 से 500 लीटर पानी में घोलकर फसल पर छिड़काव छिड़काव करें। अथवा मेटाराइजियम एनिसोप्ली1 किग्रा0 प्रति एकड़ की दर से 200 ली0 पानी में घोलकर सायंकाल छिडकाव करना चाहिए जिसे आवश्यकतानुसार 15 दिन के अन्तराल पर दोहराया जा सकता है। इसके अलावा क्लोरपाइरीफास 20 प्रतिशत ई0सी0 600 मिली0 प्रति एकड़ 400 ली0 पानी में घोलकर छिडकाव किया जा सकता है। 
स्रोत- उत्तर प्रदेश कृषि विभाग, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!  
12
1
संबंधित लेख