सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
जानिए जुलाई महीने में गन्ने की फसल में क्या करें?
गन्ने के जिन खेतों में पौधे निकल आए हों उनमें मिट्टी चढ़ा दें। चोटी बेधक का मादा तितली जुलाई माह में पत्तियों की निचली सतह पर समूह में अण्डे देती हैं। अण्डे वाली पत्तियों को नष्ट कर दें, और कार्बोफुरान 3 जी. 25 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर की दर से अवश्य प्रयोग करें। चोटी बेधक के नियंत्रण हेतु ट्राइकोकार्ड @ 4 प्रति हेक्टेयर की दर से प्रयोग करें। गुरदासपुर बेधक के नियंत्रण हेतु सूखे अगोले को काटकर जमीन मे दबा दें। खेत से उचित जल निकास का उचित प्रबंधन करें। बर्षा के दिनों में पर्याप्त नमी न होने पर 8-10 दिन के अन्तराल पर सिंचाई करते रहें। सूखे से बचने जल के समुचित उपयोग एवं बिजली की कमी से निपटने के लिए ड्रिप सिंचाई प्रयोग करें। सफेद लट के नियंत्रण के लिए लाइट ट्रैप या पौधों पर कीटनाशी छिड़काव कर नियंत्रण करें। शरद कालीन गन्ने को गिरने से बचाने के लिए बंधाई अवश्य करें।
स्रोत:- एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, प्रिय किसान भाइयों दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
52
8
संबंधित लेख