सलाहकार लेखएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
बैंगन की फसल का प्रबंधन
• कीटों और बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए बैंगन के पौधों की देखभाल करें। • कीटों और बीमारियों के रोकथाम के लिए 40 ग्राम कार्बारिल (50 प्रतिशत) और 15 ग्राम कार्बेन्डाइजिम प्रति पंप का छिड़काव करें। • अगले 10 - 15 दिनों के लिए आवश्यकता अनुसार स्प्रे दोहराएं। • रोगग्रस्त पौधों को दिखाई देते ही तुरंत नष्ट कर दें। • नेमाटोड से बचाव के लिए खेत में प्याज और गेंदे की फसल चक्र को दोहराएं। • गर्मियों के दौरान भूमि जनित रोगों को खत्म करने के लिए मिट्टी की 2-3 बार जुताई करें। • फ्यूसैरियम कवक पौधों में विल्ट रोग का कारण बनता है जिससे पत्तियां पीली होती हैं और गिरने लगती हैं। यह मुख्य रूप से पौधों की वृद्धि को प्रभावित करता है। संदर्भ - एग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
640
85
संबंधित लेख