कृषि वार्ताआउटलुक अॅग्रीकल्चर
केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री का दावा, सीमा पर दस्तक देते ही टिड्डियों को खत्म करने की तैयारी!
केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने गुरुवार को कहा कि देश के पश्चिमी सीमावर्ती इलाकों में फसलों पर टिड्डियों के प्रकोप से किसानों को निजात दिलाने के लिए केंद्र सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि टिड्डियों के सीमा पर दस्तक देते ही उनको खत्म कर दिया जाएगा, इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है। उन्होंने कहा कि टिड्डियों को मारने के लिए हेलीकॉप्टर और ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जाएगा। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की अध्यक्षता में गुरुवार को संपन्न हुई बैठक में कैलाश चौधरी ने इस विषय को प्रमुखता से उठाया। उन्होंने मंत्रालय के अधिकारियों के साथ अलग से भी बातचीत कर पूरी तैयारी का जायजा लिया। बैठक के बाद कैलाश चौधरी ने बताया कि गत वर्ष सीमा पार से टिड्डियों के लगातार हमले से क्षेत्र में फसलों को भारी नुकसान हुआ था। किसान अभी तक उस नुकसान से उबर भी नहीं पाए हैं कि टिड्डियों के समूह एक बार फिर आना शुरू हो गए है। सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर टिड्डियों को मारने का काम शुरू उन्होंने बताया कि कृषि मंत्रालय के निर्देश के बाद टिड्डी नियंत्रण विभाग ने सीमावर्ती क्षेत्रों का दौरा कर टिड्डियों को मारने का काम शुरू कर दिया है। तीन दिन पहले टिड्डियों ने सबसे पहले जैसलमेर सीमा में प्रवेश किया। इसके अगले दिन बाड़मेर के सीमावर्ती क्षेत्रों में भी टिड्डियां पहुंच गई। पोखरण क्षेत्र में पहुंचा टिड्डी दल जोधपुर के ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंच गया। कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार सीमावर्ती जिलों में टिड्डी नियंत्रण को लेकर गंभीर है और हरसंभव संसाधन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग करते हुए टिड्डी नियंत्रण के निर्देश उन्होंने कृषि मंत्रालय के अधिकारियों को पूरी सतर्कता के साथ उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग करते हुए टिड्डी नियंत्रण के निर्देश दिए। चौधरी ने कहा कि प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान सीमा से सटे बाड़मेर और जैसलमेर जिले टिड्डी से ज्यादा प्रभावित हैं। उन्होंने अधिकारियों को स्थानीय किसानों के साथ पूर्ण सामंजस्य रखकर टिड्डी नियंत्रण में सहयोग लेने को कहा। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने गुरुवार को कहा कि देश के पश्चिमी सीमावर्ती इलाकों में फसलों पर टिड्डियों के प्रकोप से किसानों को निजात दिलाने के लिए केंद्र सरकार प्रतिबद्ध है। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 8 मई 2020 आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो, इसे लाइक करें और अपने सभी किसान मित्रों के साथ शेयर करें।
38
2
संबंधित लेख