कृषि वार्ताआउटलुक एग्रीकल्चर
बांग्लादेश ने चावल पर आयात शुल्क 55 फीसदी किया
बांग्लादेश सरकार ने चावल के आयात पर शुल्क को 27 फीसदी बढ़ाकर 55 फीसदी कर दिया है, इसका असर भारतीय गैर-बासमती चावल के निर्यात पर भी पड़ेगा। वित्त वर्ष 2018-19 में भारत से बांग्लादेश को गैर-बासमती चावल के निर्यात में करीब 76 फीसदी की भारी कमी आई है।
बांग्लादेश सरकार के राष्ट्रीय राजस्व बोर्ड द्वारा जारी सूचना के अनुसार घरेलू किसानों के हितों की रक्षा के लिए चावल के आयात पर शुल्क को बढ़ाकर 55 फीसदी किया गया है जो तत्काल प्रभाव से लागू होगा। बंगलादेश में चावल के आयात पर अभी तक 28 फीसदी आयात शुल्क था। एपीडा के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार बंगलादेश, भारत से गैर-बासमती चावल का आयात ज्यादा करता है। उन्होंने बताया कि 28 फीसदी शुल्क होने के कारण वित्त वर्ष 2018-19 में भी बंगलादेश को निर्यात में 76 फीसदी की कमी आई थी। आयात शुल्क में बढ़ोतरी से इसके निर्यात में और कमी आने की आशंका है। स्रोत – आउटलुक एग्रीकल्चर, 24 मई 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
28
0
संबंधित लेख