विडिओराजस्थान पत्रिका
रेडिएशन तकनीक से विकसित होगी फसलों की नई किस्में!
किसान भाइयों जोधपुर कृषि विश्वविद्यालय अब भाभा आणविक अनुसंधान संस्थान मुम्बई के साथ मिलकर रेडिएशन टेक्नोलॉजी से जीरा व ईसबगोल की नई किस्में विकसित करेगा। जो अन्य तरीकों से विकसित किस्मों से ज्यादा कारगर होगी। इस तकनीक से जीरा, ईसबगोल, प्याज आदि सब्जियों और मसाला फसलों में कटाई के बाद होने वाले नुकसान को रोकने के लिए उनको बचाने का काम किया जाएगा। जोधपुर कृषि विश्वविद्यालय और बार्क के बीच अनुसंधान के विभिन्न क्षेत्रों में तथा कृषि में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में परस्पर सहयोग के लिए समझौता किया गया है। समझौते के तहत बार्क और विवि मिलकर महत्वपूर्ण फसलों की उन्नतशील व रोगरोधी किस्मों पर काम करेंगे, जो पश्चिमी राजस्थान की जलवायु के तहत अधिक उपज और गुणवत्तापूर्ण उत्पाद पैदा करने में सक्षम होगी। इसकी विस्तृत जानकारी जानने के लिए वीडियो को अंत तक जरूर देखें। 👉🏻 खेती तथा खेती सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए कृषि ज्ञान को फॉलो करें। फॉलो करने के लिए अभी क्लिक ulink://android.agrostar.in/publicProfile?userId=558020 करें।
स्रोत:- राजस्थान पत्रिका, प्रिय किसान भाइयों इस वीडियो में दी गई जानकारी उपयोगी लगी, तो इसे लाइक👍करें एवं अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें धन्यवाद!
11
4
संबंधित लेख