कृषि वार्तादैनिक भास्कर
केले में दोगुना होगा विटामिन, मिर्च जैसे तीखे होंगे टमाटर!
नई दिल्ली। खाने को और पौष्टिक बनाने के लिए जानी-मानी यूनिवर्सिटीज काम कर रही हैं। ऑस्ट्रेलिया की क्वीन्सलैंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी ने ऐसा केला विकसित किया है, जिसमें विटामिन-ए की मात्रा सामान्य केले से दोगुना होगी। यह केला 2025 तक आएगा।
इतना ही नहीं, वैज्ञानिक एक ऐसा टमाटर भी विकसित कर रहे हैं जो, हरी मिर्च की तरह तीखा होगा। इस टमाटर में कैपसाईपिनोइड होगा, यही तत्व मिर्च को तीखा बनाता है। वैज्ञानिक इसे जीन एडिटिंग की मदद से टमाटर में सक्रिय कर रहे हैं। ब्राजील की फेडेरल यूनिवर्सिटी ऑफ विकोसा के रिसर्चर अगस्टिन सोगोन कहते हैं कि कैपसाईपिनोइड वजन घटाने में भी मददगार है। मिर्च के मुकाबले टमाटर को बड़े पैमाने पर उगाना आसान होता है। इस पर ब्राजील और आयरलैंड काम कर रहे हैं। 2019 के अंत तक ये टमाटर उगा लिया जाएगा। सेब के साथ सबसे बड़ी समस्या ये है कि यदि उसे काटने के तुरंत बाद खाया नहीं गया तो वो भूरा पड़ने लगता है। कनाडा की कंपनी ओकानागन ने ऐसा सेब तैयार कर लिया है, जो काटने के बाद भी भूरा नहीं पड़ता। स्रोत - दैनिक भास्कर 8 सितंबर 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
68
0
संबंधित लेख