जैविक खेतीhttp://www.soilmanagementindia.com
गोबर खाद का उपयोग
• आंशिक रूप से सड़े हुए गोबर की खाद को आमतौर पर फसलों की बुवाई से 3 से 4 सप्ताह पहले दिया जाना चाहिए। • गोबर की खाद नम मिट्टी में विघटित होती है जिससे मिट्टी की संरचना में सुधार होता है और उसमें निहित पोषक तत्व फसलों की वृद्धि के लिए कारगर होते हैं। • यदि इसे फसल बोने से बहुत पहले दिया जाए तो वर्षा जल द्वारा पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। बुवाई से पहले गोबर खाद को अच्छी तरह से तैयार खेत की मिट्टी में मिलाना चाहिए।
• गोबर की खाद, सब्जियों और फलों के पौधों को उर्वरकों के रूप में देने पर सबसे अच्छा परिणाम मिलता है। • गोबर की खाद में फास्फोरस की मात्रा अपेक्षाकृत कम होती है, इसलिए खेत में गोबर की खाद के साथ सिंगल सुपर फास्फेट को पहली खाद के रुप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए और नाइट्रोजन उर्वरकों को पौधों के निचले भाग के आस-पास में इस्तेमाल किया जाना चाहिए। स्रोत: http://www.soilmanagementindia.com यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
133
1
संबंधित लेख