AgroStar Krishi Gyaan
Pune, Maharashtra
07 Dec 19, 06:30 PM
जैविक खेतीएग्रोस्टार एग्रोनोमी सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस
ट्राइकोग्रामा - एक अंडा-परजीवी मित्र कीट
जैविक-कीट नियंत्रण प्रणाली एकीकृत कीट प्रबंधन के महत्वपूर्ण घटकों में से एक है और इसका उपयोग प्रभावी है। हमारा मित्र कीट 'ट्राइकोग्रामा चिलोनीस' है, जो कई कीटों पर रहता है। यह प्रजाति ट्राइकोग्रामा पर विभिन्न प्रजातियों के 3 अंडों पर रहती है। जीवन चक्र: - ट्राइकोग्रामा के अंडे की अवस्था 16-24 घंटे की होती है और उसके बाद उसमें से सुंडी निकलती है। सुंडी की अवस्था 2- 3 दिन की होती है। यह सुंडी, किट के अंडे पर जीवित रहती है। इसलिए, उसमें से कीट निर्मिति नहीं होती है। फिर सूंडी कोषावस्था में चली जाती है। कोषावस्था 2-3 दिन की होती हैं। 7 वें या 8 वें दिन, ट्राइकोग्रामा वयस्क किट के अंडे में से बाहर निकलता है। कोषावस्था से बाहर निकले हुए वयस्क ट्राइकोग्रामा 24-48 घंटे तक जीवित रहता है। वयस्क ट्राइकोग्रामा आगे 2 से 3 दिनों के लिए खेत में घूमकर सुंडीवर्गीय कीट के अंडों को ढूंढ़कर उसमें अपने अंडे देता है। इस तरह, ट्राइकोग्रामा कीट का जीवन चक्र पूरा हो जाता है। ट्राइकोग्रामा कीट नियंत्रण पद्धति ट्राइकोग्रामा यह मित्र कीटों की प्रयोगशाला में उत्पादन लिया जाता है। प्रयोगशाला में, धान में पाए जाने वाले पतंगा के अंडों पर कृतिम तरीके से ट्राइकोग्रामा की मादा से अंडे डाल कर इस प्रकार तैयार किये गए कार्ड को किसानों को दिए जाते हैं। इस तरह के कार्ड पर लगभग 18 से 20 हजार अंडे होते हैं। इस कार्ड की पट्टियां बनाकर खेत में कैनोपी में फसल के पत्तों पर स्टेपलर या धागे द्वारा बांधकर लगाया जा सकता है। यह परजीवी ट्राइकोग्रामा को खेत में छोड़ा जाता है, तो मादा अंडे 5 मीटर व्यास वाले क्षेत्र में कीट ने डाले हुए अंडे को ढूंढकर उसके ऊपर मादा किट अंडे देती है। एक मादा हानिकारक कीटों के अंडों ढूंढकर 1 अंडे में 2 से 6 अंडे देती है। ट्रायकोग्रामा की अंडे फूटने के बाद सुंडी अवस्था हानिकारक कीट के अंडे के अंदर खाते हैं और फिर कोषावस्था में चले जाते हैं। इस पूरी प्रक्रिया में हानिकारक कीट के अंडे का जीवित भाग समाप्त हो जाता है और जीवित कीट अंडे से बाहर नहीं निकलता है। इस तरह से, ट्राइकोग्रामा हमारे दोस्त हैं, जो दुश्मन कीट को नष्ट कर देता है और हमें नुकसान से बचाता है। संदर्भ - एगोस्टार एग्रोनॉमी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगती है, तो फोटो के नीचे पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए गए विकल्प के माध्यम से अपने सभी कृषक मित्रों के साथ साझा करें!
517
0