मानसून समाचारSkymet
दक्षिण-पूर्वी राजस्थान में अधिक बारिश की आशंका
देश में निम्न दबाव का क्षेत्र मध्य प्रदेश के मध्य भागों पर बना हुआ है। अरब सागर के उत्तर-पूर्वी भागों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र सक्रिय है। जिसकी वजह से अगले 24 घंटों के दौरान मानसून का सबसे व्यापक प्रभाव दक्षिण-पूर्वी राजस्थान और इससे सटे गुजरात में देखने को मिल सकता है। इसके चलते हल्की से मध्यम बारिश के साथ भारी बारिश होने के आसार हैं। कच्छ, पूर्वी और दक्षिणी राजस्थान, उत्तर तथा उत्तर-पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिणी उत्तर प्रदेश, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और पूर्वोत्तर में असम तथा मेघालय में सामान्य मानसून के चलते कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। देश के बाकी सभी हिस्सों में कुछ स्थानों पर मानसून कमजोर रहेगा। हालांकि कुछ स्थानों पर हल्की और एक-दो जगह मध्यम मानसूनी बौछारें गिर सकती हैं। स्रोत – 26 अगस्त 2019, स्काईमेट
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
25
0
संबंधित लेख