आज का सुझावपशु चिकित्सक
पशुओं में कृमि के लक्षण
दुधारू पशुओं का दुग्ध उत्पादन कम हो जाता है। जानवर का गर्भ न ठहरने की समस्या आती है या सही समय पर गाभिन नहीं होना। पशु की त्वचा खुरदुरी और आँखों से पानी निकलता है और बाल झड़ने लगते है एवं बछड़ो का विकास कम होने लगता है।
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
353
0
संबंधित लेख