आज का सुझावपशु चिकित्सक
दुग्ध-ज्वर बीमारी के लक्षण
• पशुओं का बेचैन होना। • पशुओं का कांपना और लड़खड़ाना, मांसपेसियों में कंपन होन आदि है, जिसके कारण पशु खड़ा रहने में असमर्थ रहता है। • पलके झूकी-झूकी और आंखे निस्तेज सी दिखाई देती है। • मुंह का सूख जाना। • पशु सीने के सहारे जमीन पर बैठता है और गर्दन शरीर पर एक ओर मोड़ लेता है। • समय पर चिकित्सा नहीं होने पर पशुओं की 24 घंटे के अंदर मौत हो जाती है।
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
110
0
संबंधित लेख