पशुपालनकृषि जागरण
पशुओं में जाने पथरी के लक्षण और इलाज
बदलते हुए समय के अनुसार नई बीमारियों का पशुओं पर भी प्रभाव पड़ रहा है। ऐसी ही बीमारियों में से एक है पथरी की समस्या। पथरी के बारे में वैसे आमतौर पर हमारी समझ सीमित है। जानवरों में पथरी के मामले में तो लोगों को बहुत कम जानकारी है। पथरी की समस्या ना सिर्फ पशुओं के लिए खतरनाक है बल्कि यह जानलेवा भी है। ये बीमारी भेड़-बकरी, गाय-भैंस और कुत्ते आदि किसी को भी आसानी से हो सकती है।
पशुओं में पथरी के कारण :_x000D_ पशुओं में पथरी की समस्या होने के कई कारण हैं। बदलते मौसम औऱ जलवायु, खान-पान एवं आहार में तेजी से होता हुआ परिर्वतन। _x000D_ नर पशुओं को अधिक खतरा :_x000D_ प्रायः मादा पशुओं के मुकाबले नर पशुओं को पथरी की समस्या अधिक रहती है। इस बारे में कुछ निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता, लेकिन बहुत से विशेषज्ञों का मानना है कि मादा पशुओं में पेशाब की नली अधिक चौड़ी होती है और इसी कारण अनचाहे तत्व आसानी से बाहर निकल जाते हैं । लेकिन नर पशुओं में पेशाब की नली पतली होती है। जिस कारण पथरी बनने की संभावना अधिक हो जाती है। _x000D_ पशुओं में पथरी के लक्षणः_x000D_ 1. पशु कुछ समय के अंतराल पर पेशाब करने का प्रयास करता है, लेकिन उसे पेशाब नहीं होता। _x000D_ 2. पशु सहमा सहमा रहने लगता है और बैचेनी के कारण कभी उठता कभी बैठता है। _x000D_ 3. चारा खाना बंद कर देता है। _x000D_ 4. पेट सामान्य के मुकाबले कुछ अधिक फूला हुआ प्रतीत होता है। _x000D_ लक्षण प्रतीत होने पर :_x000D_ 1. पशु की हरकतों को ध्यानपूर्वक गौर करें। _x000D_ 2. पानी की सफाई पर खास-ध्यान दें। _x000D_ 3. घरेलू उपाय ना करें और डॉक्टर से संपर्क करें।_x000D_ _x000D_ स्रोत: कृषि जागरण _x000D_ _x000D_ यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।_x000D_
280
0
संबंधित लेख