कृषि वार्तालोकमत
देश में चीनी मिलों को मिलेगा निर्यात कोटा
देश में लगातार दूसरे साल भी रिकॉर्ड तोड़ चीनी का उत्पादन हुआ है। इससे यह 145 लाख टन चीनी के स्तर पर पहुंच गया है। चीनी की इस बम्पर पैदावार की वजह से अब देश से 60 से 70 लाख टन चीनी का निर्यात जरूरी हो गया है। इस स्थिति में, चीनी संघ ने देश में चीनी कारखानों को सूचित किया है कि उन्हें निर्यात कोटा प्रदान किया जाएगा।
चालू पेराई सत्र में 330 लाख टन चीनी का रिकॉर्ड उत्पादन दर्ज किया गया है। पिछले साल भी इतना ही चीनी का उत्पादन हुआ था। वहीं, देश में चीनी की वार्षिक खपत लगभग 25 लाख टन है। पिछले वर्ष के भंडारण और इस वर्ष के भंडारण के साथ, 1 अक्टूबर, 2019 से शुरू होने वाले सीजन में 145 लाख टन चीनी उपलब्ध है। इसलिए, देश से 60 से 70 लाख टन चीनी का निर्यात करना आवश्यक हो गया है। स्रोत - लोकमत, 13 जुलाई 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
9
0
संबंधित लेख