कृषि वार्ताएग्रोवन
कम बारिश से सोयाबीन की खेती प्रभावित
नई दिल्ली। कम बारिश के कारण खरीफ की बुआई प्रभावित हुई है। इसमें देश के प्रमुख सोयाबीन उत्पादक राज्यों में सोयाबीन की खेती पर असर हुआ है। पिछले साल की तुलना में सोयाबीन की बुआई में 11% की कमी आई है। देश में जनवरी से जून तक 6 लाख हेक्टेयर में सोयाबीन बोया गया था। सोयाबीन देश की सबसे महत्वपूर्ण तिलहन फसल है और यह कुल तिलहन उत्पादन का लगभग 3% है। सोयाबीन के उत्पादन में गिरावट आने पर देश को बड़ी मात्रा में खाद्य तेलों का आयात करना होगा। पिछले 2-3 वर्षों में रिकॉर्ड 1.5 लाख टन सोयाबीन का उत्पादन किया गया। सोयाबीन अनुसंधान के निदेशक वीएस भाटिया ने कहा कि कम बारिश के कारण कई इलाकों में सोयाबीन की बुआई रोकनी पड़ी। हालांकि, देर से बुआई के कारण उत्पादन के नुकसान से बचने के लिए, किसान फसल की अन्य किस्मों की बुवाई कर रहे हैं। इससे देश में सोयाबीन का उत्पादन बनाए रखने में मदद मिल सकती है। स्रोत – अग्रोवन, 23 जुलाई 2019
यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
45
0
संबंधित लेख