कृषि वार्तागांव कनेक्शन
सोलर ड्रायर से सुखाएंगे फूल, गुणवत्ता बरकरार रहेगी
भारत से निर्यात होने वाले फूल उत्पादों में 70% हिस्सेदारी सूखे फूलों और पौधों के अलग-अलग भागों की है। लेकिन सूखे फूल उत्पादों के वैश्विक बाजार में भारत की भागीदारी सिर्फ पांच% है। भारतीय शोधकर्ताओं ने एक सोलर ड्रायर विकसित किया है जो गुलाब और गेंदे जैसे फूलों की सुंदरता और गुणों को नुकसान पहुंचाए बिना सुखाने में उपयोगी है। सोलर ड्रायर को विकसित करने वालों में शामिल नई दिल्ली स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिक डॉ पी. के. शर्मा ने बताया, "सोलर ड्रायर और सीधे धूप में सुखाए फूलों के रंग, रूप और आकार का मूल्यांकन करने पर पाया गया कि बाहरी तापमान में उतार-चढ़ाव होता है इससे, खुली धूप में फूलों को सुखाने से रंग, रूप और आकार प्रभावित होता है। सोलर ड्रायर में फूलों की गुणवत्ता बनी रहती है।
खुले में गुलाब के फूल सुखाने में करीब 54 घंटे लगते हैं, वहीं सोलर ड्रायर में लगभग 33 घंटों में ही सुखाया जा सकता है। गेंदे को धूप में सुखाने में लगभग 48 घंटे लगता है सोलर ड्रायर में करीब 27 घंटे में गेंदे के फूलों को सुखाकर बेहतर गुणवत्ता प्राप्त की जा सकती है। इसकी मदद से फूलों, पौधों की शाखाओं, पत्तियों को सुखाकर लंबे समय तक उनकी ताजगी बरकरार रख सकते हैं। स्रोत – गांव कनेक्शन, 3 जून 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
38
0
संबंधित लेख