कृषि वार्ताएग्रोवन
इथेनॉल उत्पादन विकास के लिए 2790 करोड़
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने चीनी मिलों को एथेनॉल उत्पादन संयंत्र स्थापित करने के लिए दिए जाने वाले ब्याज सहायता के लिए 2,790 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में यह निर्णय लिया गया। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि सरकार ने चीनी मिलों को बैंक कर्ज पर 2,790 करोड़ रुपये की ब्याज सहायता देने को मंजूरी दे दी है। इस वित्तीय मदद के तहत बैंकों द्वारा मिलों को 12,900 करोड़ रुपये का कर्ज दिये जाने पर यह ब्याज सहायता उपलब्ध कराई जायेगी। चीनी मिलों के लिए इंटरेस्ट सबवेंशन स्कीम के तहत यह मंजूरी दी गई है।
योजना के फायदे • इथेनॉल-मिश्रित पेट्रोल कार्यक्रमों के माध्यम से इथेनॉल की आपूर्ति के उत्पादन में सुधार होगा जिससे चीनी कारखानों की वित्तीय स्थिति में सुधार होगा। • गन्ना किसानों को भुगतान में आसानी होगी। संदर्भ - अॅग्रोवन, 8 मार्च 2019 यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
45
0
संबंधित लेख