बागवानीअन्नदाता कार्यक्रम
गूटी विधि से नए पौधे तैयार करने पर जानकारी
• इस विधि के द्वारा आप अमरुद, अनार, लीची आदि पौधों की पौध तैयार कर सकते हैं। • इस बिधि में काफी सावधानी रखनी होती है। • गूटी बांधने के लिए मिट्टी रोग रहित होनी चाहिए। • पौधों में गूटी बांधने के बाद जमीन में पर्याप्त नमी होनी चाहिए। • गूटी विधि का उपयोग वर्षा ऋतू में ही करना चाहिए। • गूटी बांधने वाले सभी यंत्र तेज धारदार, जंग रोधी होने चाहिए।
स्रोत:- अन्नदाता कार्यक्रम यदि आपको यह वीडियो उपयोगी लगे तो लाइक करें एवं अपने अन्य कृषि मित्रों के साथ शेयर करें।
49
0
संबंधित लेख