जैविक खेतीज़ीटॉनिक हरियाणा
वर्मी कम्पोस्ट बनाने की विधि
• वर्मी कम्पोस्ट एक बहुत ही उपयोगी और महत्वपूर्ण खाद होता है। _x000D_ • जहाँ पर आपका गोबर खाद 10 टन लगता है वहीँ आपका वर्मी कम्पोस्ट 3 टन लगता है। _x000D_ • केंचुआ खाद बनाने के लिए हमें सर्वप्रथम पॉलीथिन बैग, गोबर 5 से 7 दिन पुराना, फसल अवशेष, खेत की मिट्टी, नीम की पत्ती और पानी की आवश्यकता होती है। _x000D_ • सर्वप्रथम पॉलीथिन बैग को लगाते हैं। उसके बाद फसल अवशेष और नीम की पत्ती की 3 से 4 सेंटीमीटर मोटी परत लगाते हैं। और फिर परत को पानी से अच्छी तरह भिगो दिया जाता है। _x000D_ • उसके बाद गोबर की परत लगाते हैं। और फिर परत को पानी से अच्छी तरह भिगो दिया जाता है। _x000D_ • फिर आप मिट्टी की 3 से 4 सेंटीमीटर ऊँची परत लगाते हैं। या आप गोबर और मिट्टी को मिलाकर भी परत लगा सकते हैं। और फिर परत को पानी से अच्छी तरह भिगो दिया जाता है। _x000D_ • इसके बाद आप केंचुआ और उसके अण्डों को अच्छी तरह से परत के ऊपर बिना नुकसान पहुँचाये छोड़ दीजिये। _x000D_ • इसके बाद फसल अवशेष की परत और पानी फिर गोबर मिट्टी की परत और फिर पानी लगाइये। _x000D_ • वर्मी कम्पोस्ट छायादार स्थान पर बनाइये। कम्पोस्ट बनने तक इसमें 60 प्रतिशत नमी बनाये रखिये। _x000D_ स्रोत:- ज़ीटॉनिक हरियाणा_x000D_ दी गई जानकारी उपयोगी लगे तो लाइक करें और अपने अन्य किसान मित्रों के साथ शेयर करें।_x000D_
467
0
संबंधित लेख