जैविक खेतीएग्रीकल्चर फॉर एवरीबडी
(भाग-I) फसलों से लें अधिक पैदावार
अंडे और नींबू से अमीनो एसिड का निर्माण होता है। अंडे के बाहरी आवरण से कैल्शियम प्राप्त होता है और गुड़ से लौह सत्र प्राप्त होता है। इससे पौधों में कीट प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और वह स्वस्थ रहते हैं। चावल, गेहूं, केले, हरी-सब्जी और फलों पर इन्हें इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे पौधों का अच्छा विकास हो सकता है।
सामग्री- • नींबू - 20-25 • गुड़ - 250 ग्राम • अंडे – 10-15 बनाने की विधि: • नींबू को एक बोतल में काट लें। • कटे हुए नींबू में गुड़ अच्छी तरह से मिलाएं। • अंडे को एयर-टाइट बोतल में 10 दिन तक रखें और इसे छाया में रखें। • इससे 10 दिनों के बाद अंडे रबर की गेंदों की तरह बना जाएंगे। • गुड़ और नींबू के घोल को अच्छी तरह मिलाएं। • इस तैयार किए गए घोल में समान मात्रा में गुड़ का पाग भी मिलाएं और फिर 10 दिनों के लिए छाया में रखें। • अब इस तैयार घोल को फसलों के लिए प्रयोग करें। स्रोत – एग्रीकल्चर फॉर एवरीबडी यदि आपको यह जानकारी उपयोगी लगे, तो फोटो के नीचे दिए पीले अंगूठे के निशान पर क्लिक करें और नीचे दिए विकल्पों के माध्यम से अपने सभी किसान मित्रों के साथ साझा करें।
1327
1
संबंधित लेख